नारियल तेल के 11 जबरदस्त फायदे | Nariyal Tel Ke Fayde

नारियल तेल के फायदे (Nariyal Tel Ke Fayde) नारियल के तेल फायदे और नुकसान, उपयोग (Coconut Oil Benefits in Hindi, Nariyal Tel Ke Nuksan, Uses)

nariyal-tel-ke-fayde-coconut-oil-benefits-in-hindi
नारियल तेल के फायदे – Nariyal Tel Ke Fayde

हम सभी लोग हिंदुस्तान में रहते है और हम सभी के जीवन में तेल का बहुत महत्व है। हमारे हिंदुस्तान में रहने के अलग-अलग क्षेत्रों के अनुसार तेल कई प्रकार के हो सकते है। भारत के कुछ क्षेत्रों में सरसों का तेल अधिक उपयोग किया जाता हैं तो कही पर नारियल का तेल। आज हम बात करने वाले है नारियल के तेल के फायदे के बारे में। आइये जानते है नारियल तेल किस प्रकार उपयोगी एवं फायदेमंद है हम सभी के लिए।

Table of Contents

नारियल तेल क्या है? (Nariyal Tel)

नारियल तेल में कई तरह के पोषक तत्व और सैचुरेटेड फैट मौजूद होते हैं। नारियल तेल नारियल से तैयार किया जाता है। इस तेल को आप खाद्य तेल भी कह सकते हैं। इस तेल का उपयोग आज से ही नही बल्कि पुराने समय से किया जाता है।

नारियल तेल आपकी त्वचा, बालों की सुंदरता को बढ़ाने का काम करता है। लगभग सभी के घरों में नारियल का तेल जरूर होता है क्योंकि हम इसे कई तरह से उपयोग में ला सकते हैं।

नारियल तेल में उपलब्ध पोषक तत्व (Nutrients)

नारियल तेल कई तरह के पोषक तत्वों से भरपूर होता है। यह हमारी सेहत के साथ-साथ हमारे शरीर के लिए भी बहुत फायदेमंद है। लोग नारियल तेल का उपयोग बालों और शरीर में मालिश के लिए करते हैं वहीं दूसरी ओर दक्षिणी भारतीय लोग खाने में इस तेल का उपयोग करते हैं।

शरीर को स्वस्थ रखने में नारियल तेल बहुत फायदेमंद है। नारियल तेल की मदद से स्ट्रेच मार्क्स को भी हटा सकते हैं।

नारियल तेल में एंटी ऑक्सीडेंट, फैटी एसिड, एंटी इफ्लेमेटरी, एंटी माइक्रोबियल और विटामिन ई विटामिन के जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं।

यह पोषक तत्व हमारे शरीर को स्वस्थ रखने में काफी मददगार होते हैं।

नारियल तेल के उपयोग (Uses of Coconut Oil in Hindi)

नायक तेल का उपयोग सबसे ज्यादा दक्षिणी भारतीय लोग अपने व्यंजनों और पकवानों में करते है। आगे हम आपको नारियल तेल के उपयोग के तरीके बताएंगे –

  1. फिल्टर हुए नारियल तेल का इस्तेमाल हम भोजन में कर सकते हैं लेकिन इसको उच्च तापमान पर नहीं लगाना चाहिए।
  2. सब्जियों को भी नारियल तेल में भून सकते हैं।
  3. स्मूदी में भी हम नारियल तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं नारियल तेल में बनी हुई स्मूदी बहुत ही स्वादिष्ट लगती है।
  4. नारियल तेल का उपयोग चेहरे और बालों के लिए किया जाता है।
  5. शरीर की मालिश के लिए नारियल तेल काफी उपयोगी होता है।
  6. चेहरे से सौंदर्य प्रसाधन हटाने में भी नारियल तेल का प्रयोग किया जाता है।
  7. हमारे होठों के लिए नारियल तेल काफी उपयोगी होता है इससे होठों में नमी बनी रहती है और हमारे होंठ फटते नहीं हैं।
  8. ऑयल पुलिंग के लिए भी नारी तेल का इस्तेमाल किया जाता है।

👉 क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी > इन तरीको से शीघ्रपतन होगा चुटकियों में ठीक

नारियल तेल के फायदे (Nariyal Tel Ke Fayde)

हमारे स्वास्थ्य के लिए नारियल तेल काफी फायदेमंद होता है। यह तेल कई बीमारियों में लाभदायक होता है। इसके प्रयोग से मधुमेह जैसी बीमारियों में राहत मिलती है।

नारियल तेल हमारे लिए कैसे फायदेमंद है आगे बताते हैं-

1. वजन घटाने नारियल तेल के फायदे

नारियल तेल में फैटी एसिड जैसे लोरिक एसिड और कैपरिक एसिड आदि होते हैं। वजन कम करने में इन पोषक तत्वों का बहुत योगदान रहता है इसी आधार पर माना जाता है कि वजन घटाने में नारियल तेल मददगार होता है।

2. नारियल तेल के फायदे स्वास्थ्य पाचन के लिए

नारियल तेल को एक स्वस्थ आयल माना जाता है जो पाचन को बेहतर रखने में मदद करता है । अगर इसको खाने में प्रयोग किया जाता है तो पाचन तंत्र से जुड़ी समस्याएं नहीं होती बल्कि यह गैस आदि को भी खत्म करने का काम करता है।

3. नारियल तेल के फायदे डायबिटीज के लिए

डायबिटीज या मधुमेह को नियंत्रित करने में नारियल तेल काफी हद तक कारगर सिद्ध हो सकता है क्योंकि एक शोध के अनुसार वर्जिन कोकोनट ऑयल में डायबिटीज कंट्रोल करने की क्षमता होती है लेकिन इसका अधिक सेवन नुकसानदायक भी हो सकता है।

4. दौरे रोकने में नारियल तेल के फायदे

नारियल तेल दोरो को रोकने में भी मददगार हो सकता है क्योंकि नारियल में एंटीकान्वुल्सेट कौन होते हैं। मिर्गी दौरे में यह दवाई की तरह काम करता है इसी वजह से माना जाता है कि नारियल में दोरे को रोकने की क्षमता होती है।

5. हृदय स्वास्थ्य में कोकोनट आयल के फायदे

नारियल तेल में मौजूद पॉली अनसैचुरेटेड फैटी एसिड हृदय रोगों का खतरा कई गुना तक कम कर सकता है हालांकि इस संबंध में कोई शोध नहीं किया गया है हृदय रोगी कम मात्रा में ही नारियल का तेल अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं इससे आपका ह्रदय स्वस्थ रहेगा।

6. इम्यूनिटी में नारियल तेल के लाभ

इम्यूनिटी या प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाए रखने में नारियल तेल मदद कर सकता है एक रिसर्च में बताया गया है कि नारियल तेल में मौजूद कैप्रिक एसिड, फ्लोरिक एसिड और कैप्रेलिक एसिड में एंटीमाइक्रोबियल गतिविधि होती है जो प्रतिरक्षा प्रणाली को रोगों से लड़ने में मदद करती है।

7. अल्जाइमर में नारियल तेल के फायदे

अल्जाइमर का नारियल तेल के द्वारा हम घर पर ही इलाज कर सकते हैं क्योंकि इसमें सेंचुरेटेड फैट होता है। हालांकि इसकी अभी तक कोई वैज्ञानिक पुष्टि नहीं हुई है।

8. हड्डी स्वास्थ्य में नारियल तेल के फायदे

हड्डियों को स्वस्थ और मजबूत बनाए रखने में नारियल तेल काफी मददगार होता है क्योंकि वर्जिन ऑयल में मौजूद पॉलीफेनॉल्स कंपाउंड एंटी ऑक्सीडेंट की तरह कार्य करते हैं। नारियल तेल के इस्तेमाल से जो सेल डैमेज हो जाते हैं वह स्वस्थ हो सकते हैं और हड्डियां फिर से मजबूत बन सकती हैं। चूहे पर किए गए एक शोध में यह साबित हुआ है कि नारियल तेल के द्वारा हड्डियां फिर से मजबूत हो सकती हैं।

9. नारियल के तेल के फायदे अर्थराइटिस के लिए

नारियल तेल को हमें अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए। यह तेल अर्थराइटिस के मरीजों के लिए भी फायदेमंद होता है क्योंकि इस तेल में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण होते हैं चूहों पर किए गए एक प्रयोग में इस बात की पुष्टि की गई है कि नारियल तेल गठिया से बचाव में कारगर सिद्ध हो सकता है।

10. नारियल तेल के फायदे बालों के लिए

नारियल तेल कई बिमारियों में तो लाभकारी है ही इसके साथ यह बालों के लिए भी बेहद फायदेमंद है। यदि आपके बालों में रूसी की समस्या है तो आपको प्रतिदिन सुबह में नारियल तेल की अच्छे से मालिश करनी चाहिए। इस गुणकारी तेल से केशों में नमी बनी रहेगी तथा रूसी की दिक्कत भी दूर होगी

11. नारियल तेल के फायदे त्वचा के लिए

चूँकि नारियल तेल एक ठंडी प्रक्रति का तेल है इसलिए इसका प्रयोग पित्त की समस्या को नियंत्रण में रखने के लिए किया जाता है। हमारी त्वचा पर कभी धूप से जलन हो जाती है तो कभी चेहरे पर मुहासों की समस्या सामने आती है तो कभी फोड़े-फुंसी हो जाती है।

अधिक स्किन के रोग उन्हें ही होते है जो व्यक्ति पित्त प्रक्रति के होते है। यदि आपकों भी त्वचा की समस्या होती है तो नारियल के तेल का उपयोग करना बहुत ही लाभकारी होगा। खुजली आदि की समस्या में नारियल के तेल को गंधक के साथ मिलाकर लगाना चाहिए।

चेहरे पर मुहासे होने पर नारियल तेल की हलके हाथों से कुछ देर मालिश करनी चाहिए। ऐसा करने से चेहरे की त्वचा के पोर्स खुलते है तथा जमी गन्दगी बाहर निकल जाती है एवं मुहासे नहीं होते।

👉 क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी > भांग के बीज के जबरदस्त च्मामात्कारिक लाभ

नारियल तेल के नुकसान (Nariyal Tel Ke Nuksan)

एक तरफ तो नारियल तेल के काफी फायदे हैं जो हम आपको बता चुके हैं दूसरी ओर इसके अधिक इस्तेमाल से शरीर को कुछ नुकसान भी उठाने पड़ सकते हैं क्योंकि किसी भी चीज का अधिक इस्तेमाल हानि पहुंचाता ही है तो आगे हम आपको उनके नुकसान के बारे में बताएंगे –

  • नारियल तेल का अधिक सेवन हमारे शरीर को हानि पहुंचा सकता है क्योंकि इसमें सेंचुरेटेड फैट की मात्रा अधिक होती है।
  • नारियल तेल के अधिक सेवन से कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाएगा ।कोलस्ट्रोल बढ़ेगा तो हृदय रोग का खतरा भी बढ़ सकता है।
  • इसके अधिक सेवन से किसी को एलर्जी भी हो सकती है।
  • जो व्यक्ति पहली बार इसका सेवन करता है उनको शुरुआत में दस्त की समस्या हो सकती है हालांकि धीरे-धीरे यह समस्या दूर हो जाएगी।
  • कुछ लोगों को नारियल तेल पहली बार इस्तेमाल करने से हल्का दर्द और उल्टी की समस्या हो सकती है।
  • अधिक मात्रा में नारियल तेल का इस्तेमाल करने से आपकी त्वचा चिपचिपी और तैलीय हो सकती है।
  • इसके अधिक सेवन से मोटापा भी बढ सकता है क्योंकि इसमें फैटी एसिड होता है।

सबसे बढ़िया नारियल तेल की पहचान कैसे करें-

नारियल तेल का इस्तेमाल करने से पहले उसकी शुद्धता का पता लगाना बहुत ही ज्यादा जरूरी होता है क्योंकि अगर हम अशुद्धि वाला नारियल तेल इस्तेमाल करेंगे तो वह हमें नुकसान ही पहुंचाएगा । इसीलिए नारियल तेल की शुद्धता की पहचान करने के लिए सबसे आसान तरीका यह है की अगर नारियल तेल साफ और स्वच्छ दिखाई दे रहा है तो इसका मतलब है कि यह मिलावटी नहीं है लेकिन अगर तेल में मिलावट की गई है तो वह साफ नहीं दिखाई देगा।

अगर आपको तेल में थोड़ी सी भी गंदगी या धुंधलापन दिखाई दे तो समझ जाइए कि इसमें शुद्ध नारियल तेल की गुणवत्ता नहीं है यह तेल अशुद्ध नारियल तेल है।

बाजार में मिलने वाला वर्जिन कोकोनोट ऑयल को शुद्ध नारियल तेल माना जाता है क्योंकि माना जाता है कि यह बिना मिलावट का और पूरी तरह शुद्ध नारियल तेल होता है।

👉 क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी > जौ की रोटी खाए बीमारियाँ दूर भगाए

नारियल तेल के सेवन का सही तरीका

नारियल तेल को सेवन करने का भी एक सही तरीका होता है जिससे हम सही मात्रा में इसका सेवन करके अपने शरीर को स्वस्थ रख सकते हैं।

आयुर्वेद के अनुसार सुबह खाली पेट एक चम्मच नारियल तेल का सेवन करना चाहिए क्योंकि इसमें मौजूद कैप्रिक एसिड, यूरिक एसिड, कैप्रेलिक एसिड तेजी से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का काम करते हैं।

नारियल तेल अपच के कारण बनने वाले बैक्टीरिया से भी लड़ता है और पाचन तंत्र को ठीक रखता है क्योंकि इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो पाचन तंत्र को मजबूत बनाए रखते हैं।

FAQ (सवाल-जबाब)

नारियल का तेल गर्म होता है या ठंडा ?

नारियल के तेल की तासीर ठंडी होती है अत: यह एक ठंडा तेल होता है। जिन व्यक्तिओं का शरीर पित्त प्रकर्ति का है उनके लिए यह तेल बहुत लाभकारी हो सकता है।

नारियल का तेल कब लगाना चाहिए?

वैसे तो नारियल का तेल कभी भी लगाया जा सकता है क्योंकि यह हर मौसम में गुणकारी है। फिर भी गर्मियों में यह अधिक फायदेमंद होता है क्योंकि इसमे ठंडक प्रदान करने के गुण होते है।

गर्मी में बालों में कौन सा तेल लगाना चाहिए?

गर्मियों में नारियल का तेल बालों में लगाने के कई फायदे है। एक तो यह बालों में ठंडक बनाये रखता है, दूसरा बालों में रूसी होने से रोकता है तथा बालों के झड़ने को भी कम करता है।

आज हमने क्या जाना?

आज हमने नारियल तेल के फायदे (Nariyal Tel Ke Fayde) के बारे में विस्तार से बात की। इसके आलावा हमने नारियल तेल के नुकसान, उपयोग अदि के बारे में भी जानकरी प्राप्त की। उम्मीद करते है आपको यह आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा, अपने सुझाव हमे कमेंट बॉक्स में बताना ना भूले।

अन्य लेख पढ़े

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *