Diwali 2022 Date, Muhurat : इस बार की दीवाली है कुछ खास

दीवाली/दीपावली कब है (Diwali 2022 Date), दीपावली क्यों मनाई जाती है, दीपवाली का महत्व, दीवाली शुभ मुहूर्त 2022 (Diwali 2022 Muhurat Time)

deepawali-diwali-2022-date-shusbh-muhurat-in-hindi
दीवाली शुभ मुहूर्त 2022 – Diwali 2022 Date Shubh Muhurat

हमारे सनातन धर्म में कई पर्व मनाये जाते है लेकिन कुछ पर्व ऐसे होते है जिनकी हम वेसब्री से पुरे वर्ष प्रतीक्षा करते है। ऐसा ही भारत का एक प्रमुख त्यौहार है दिवाली या दीपावली. इस त्यौहार का सभी सनातनी लोग बड़ी ही धूमधाम से मनाते है। बड़ो से लेकर बच्चों के लिए यह पर्व खुशियाँ लेकर आता है। बच्चे इस दिन फुलझड़ी जलाते है तथा मोमबत्ती लगाकर घर सजाते है। आइये जानते है इस वर्ष दीपावली कब है व दीपावली क्यों मनाई जाती है?

दीपावली क्या है? (Diwali in Hindi)

हमारे भारत देश में हर वर्ष बहुत सारे पर्व मनाए जाते हैं, इसी कारण से भारत को त्योहारों का देश कहा जाता है। जितने भी त्यौहार पूरे साल भर में आते हैं , उनमें दीपावली को सबसे बड़ा त्यौहार माना जाता है और इस त्यौहार का अपना एक विशेष महत्व होता है। दीपावली हिंदुओं का सबसे बड़ा त्यौहार है।

इस त्यौहार को मनाने की तैयारियां 1 महीने पहले से शुरू हो जाती हैं। सभी अपने घरों की साफ सफाई और पुताई दीपावली पर जरूर करते हैं।

यह‌पर्व बच्चों में एक विशेष उत्साह को दर्शाता है।

दीपावली के त्यौहार को हम कार्तिक मास की अमावस्या को हर साल मनाते हैं।

दीपावली क्यों मनाई जाती है? (Reason of Celebration)

दीपावली का त्यौहार इसलिए मनाया जाता है क्योंकि इस दिन भगवान श्री राम, माता सीता और भाई लक्ष्मण 14 वर्ष का बनवास पूर्ण करके अयोध्या वापस लौटे थे।

जब अयोध्या वासियों को उनके आने का पता चला तो सभी बहुत अधिक खुश थे। और उस दिन कार्तिक मास की अमावस्या की अंधेरी रात थी। इसी कारण अयोध्या वासियों ने उनके आने से पहले ही पूरे नगर को दीपों से सजाकर उनका स्वागत किया था। और यह देख कर राम जी बहुत अधिक प्रसन्न हुए। तभी से दीपावली का त्यौहार मनाया जाने लगा क्योंकि इस त्यौहार को खुशी का प्रतीक माना जाता है। व इस दिन अमावस की रात होती है जिस वजह से चारों ओर अंधेरा होता है, और दीपक जलाने से यह अंधेरा मिट जाता है।

👉 यह भी पढ़े > 5 मिनट में मोबाइल से डिलीट फोटो ऐसे करे रिकवर

दीपावली का त्यौहार कैसे मनाया जाता है? (How to Celebrate Deepwali)

दीपावली भारत का सबसे प्रसिद्ध त्योहार है। और यह त्यौहार कुछ विदेशों में भी मनाया जाता है। इस त्यौहार के लिए एक महीना पहले से ही लोग घर की साफ सफाई और सजावट में लग जाते हैं। इस दिन सुबह के समय अमावस्या की पूजा की जाती है। इस पूजा में मटको और कर्वो का विशेष महत्व होता है। अमावस्या की पूजा के बाद शाम के समय माता लक्ष्मी की आरती गाई जाती है और खील बताशे से अग्नि में हूम दी जाती है और माता लक्ष्मी को भोग लगाया जाता है।

उसके बाद भोजन निकालकर सबसे पहले गाय माता को दिया जाता है। और उसके बाद सभी अपने घरों में दीपक मोमबत्तियां जलाकर अपने घर के अंधेरे को मिटाते हैं। बच्चे पटाखे फोड़ते हैं व सभी एक दूसरे को मिठाईयां खिलाकर इस त्योहार को मनाते हैं।

दीपावली का महत्व क्या है? (Importance of Diwali in Hindi)

जैसा कि सभी जानते हैं दीपावली हिंदुओं का एक प्रसिद्ध त्यौहार है। और हिंदूओ के लिए यह त्यौहार बहुत महत्वपूर्ण होता है। हिंदू धर्म के साथ-साथ बौद्ध, सिख, और जैन धर्म में भी इसका बहुत महत्व है।
हिंदू मान्यता के अनुसार इस दिन भगवान राम 14 वर्ष का वनवास पूरा करके अपने भाई और पत्नी के साथ अयोध्या वापस लौटे थे। उन्होंने रावण को युद्ध में परास्त करके और उसका वध करके विजय प्राप्त की थी।

उनका रावण पर विजय प्राप्त करना बुराई पर अच्छाई की जीत को दर्शाता है। इसीलिए दीए जलाकर अंधकार को मिटाकर रोशनी की जाती है जिससे यह सिद्ध होता है कि रोशनी अंधकार को मिटा सकती है। और उजाले का हमारे जीवन में क्या महत्व है।
इस त्यौहार का एक विशेष महत्व यह भी है कि सभी लोग मिलजुल कर इस पर्व को खुशी के साथ मनाते हैं।

दीपावली के दिन लोग क्या क्या करते हैं?

दीपावली के दिन सभी औरतें अपने घरों में मिठाईयां और पकवान बनाती हैं। इस दिन मां लक्ष्मी और भगवान गणेश जी की पूजा अर्चना की जाती है जिससे वह प्रसन्न होकर अपना आशीर्वाद सभी पर बनाए रखें।
हिंदू धर्म में यह माना जाता है कि इस दिन मां लक्ष्मी सभी के घर आती है इसी कारण मां लक्ष्मी के आगमन के लिए सभी लोग अपने घरों में साफ सफाई करते हैं व और अपने घरों में रंगोली बनाते हैं।
दीपावली को धनतेरस, नरक चतुर्दशी, महालक्ष्मी पूजन, गोवर्धन पूजा औरभाई दूज इन 5 पर्वों का मिलन माना जाता है।

👉 यह लेख भी पढ़े > ये गेम खेलकर आसानी से लाखों कमा सकते है आप भी

दीपावली की रात को क्या करना चाहिए?

दीपावली की रात को अपने घर में लक्ष्मी पूजन करने के बाद माता लक्ष्मी जी की मूर्ति को चुनरी उड़ा कर अपनी तिजोरी में रखना चाहिए। जहां पर आप धन रखते हैं। उस स्थान पर माता लक्ष्मी की मूर्ति रखने से, माता लक्ष्मी की कृपा दृष्टि आपके धन पर बनी रहेगी और आपके घर में धनधान्य की किसी भी प्रकार से कमी नहीं होगी।

और रोज तिजोरी से मूर्ति को निकालकर स्नान कराकर माता लक्ष्मी की पूजा आराधना करनी होगी और फिर से माता लक्ष्मी की मूर्ति को तिजोरी में रख देना होगा। ऐसा करने से माता लक्ष्मी की आप पर हमेशा कृपा दृष्टि बनी रहेगी।

दीपावली पर किसी को धन देना चाहिए या नहीं?

दीपावली के दिन किसी को भी धन नहीं देना चाहिए क्योंकि इस दिन मां लक्ष्मी की पूजा की जाती है यदि हम इस दिन किसी को धन देते हैं तो महालक्ष्मी रुष्ट हो सकती हैं और आप अपना धन हमेशा के लिए को सकते हैं।
इसका अर्थ यह है कि आप हमेशा के लिए निर्धन बन सकते हो । दीपावली के दिन किसी भी मनुष्य या जानवर को कष्ट नहीं देना चाहिए इससे भी हमारे देवी देवता रुष्ट हो सकते हैं।
और धनतेरस के दिन तो किसी तरह के बिल का भुगतान नहीं करना चाहिए। हिंदू धर्म में यह भी माना जाता है कि इस दिन दूसरों से कर्ज लेने या देने ,दोनों ही प्रकार के लेन-देनसे बचना चाहिए।

दीपावली के 5 नाम क्या है?

दीपावली का त्यौहार लगातार पांच दिन तक मनाया जाता है। इसलिए दीपावली को पांच त्योहारों का संगम माना जाता है।

इसके 5 नाम धनतेरस , चतुर्दशी, दीवाली, गोवर्धन पूजा और भाई दूज होते हैं।

नया काम शुरू करने के लिए दीपावली का दिन सबसे शुभ माना जाता है। इस दिन घरों में सुख -स्मृद्धि, स्वास्थ्य, और धन लाने के लिए भगवान गणेश और देवी लक्ष्मी जी की पूजा की जाती है।

इस वर्ष 2022 में दीपावली कब है? (Diwali 2022 Date Shubh Muhurat)

Diwali 2022 Muhurat Time : इस साल दीपावाली 24 अक्टूबर को मनाई जाएगी।

इस बार दीपावली या दीवाली शुभ मुहूर्त 2022 में, 24 अक्टूबर शाम 5 बस कर 30 मिनट से शुरू होगा और अगले दिन शाम 4:30 तक रहेगा।

हिंदू धर्म की पौराणिक मान्यताओं के अनुसार किसी भी त्योहार को मनाने का या पूजने का एक विशेष मुहूर्त होता है। जिस मुहूर्त में हम अपनी पूजा अर्चना पूरी करते हैं और भगवान को भोग लगाकर उनका आशीर्वाद लेते हैं।

👉 पोस्ट पढ़े > चुटकियों में ऐसे कम कर सकते है मोटापा हमेशा के लिए

FAQ (सवाल-जबाब)

सवाल – दीवाली 2022 में कब है ?

जबाब – दीवाली 2022 में 24 अक्टूबर को हैं। मुहूर्त के बारे में जानने के लिए ऊपर पोस्ट पढ़े।

सवाल – दीवाली का त्यौहार कब मनाया जाता है ?

जबाब – दीवाली का त्यौहार हर वर्ष कार्तिक मास की अमावस्या को मनाया जाता है।

सवाल – दीपावली से हमें क्या लाभ है?

जबाब – दीपावली का हमारे घर में खुशियाँ लाता है, सुख-शांति लाता है व इससे आपसी प्रेम सम्बन्ध मधुर होते है।

👉 सबसे ज्यादा पसंद किये जाने वाले लेख

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *