(Shighrapatan) शीघ्रपतन का जबरदस्त आयुर्वेदिक ईलाज | Premature Ejaculation in Hindi

शीघ्रपतन का आयुर्वेदिक इलाज (Treatment of Premature Ejaculation in Hindi) शीघ्रपतन या शीघ्र स्खलन क्या है, कारण व उपचार (Shighrapatan Kya Hai, Shighraptan Ka Ilaj, Causes, Shighrapatan Meaning in Hindi)

Premature-ejaculation-in-hindi-Shighrapatan-ka-ilaj
शीघ्रपतन का आयुर्वेदिक इलाज – Premature Ejaculation in Hindi

शीघ्रपतन आजकल नव युवकों में एक आम समस्या बनी हुई है जिससे पति पत्नी के रिश्ते में दरार आ जाती है और वैवाहिक जीवन खुशहाल नहीं रहता है। शीघ्र स्खलन होने की वजह से कुछ नौजवान युवक तो धीरे धीरे डिप्रेशन का शिकार भी होने लगते है। इस समस्या को कुछ लोगो ने जितना गंभीर बना दिया है यह इतनी गंभीर समस्या बिल्कुल भी नहीं है। आज हम इस लेख में इसके बारे में विस्तार से बात करेंगे और शीघ्रपतन के कुछ ऐसे ही ईलाज आपको बताएंगे जो पूर्ण रूप से आयुर्वेदिक होगे और जिनका आपके शरीर पर कोई गलत प्रभाव नहीं पड़ेगा आइये जानते है शीघ्रपतन का आयुर्वेदिक इलाज (Treatment of Premature Ejaculation in Hindi) के बारे में –

शीघ्रपतन क्या है (Premature Ejaculation in Hindi)

वैज्ञानिक दृष्टि से अगर देखें तो जब कोई पुरुष अपनी पार्टनर के साथ यौन संबंध बनाता है और वह 60 सेकंड के भीतर स्खलित हो जाता है अर्थात 60 सेकंड के भीतर चरम सीमा को प्राप्त हो जाता हैं या यूं कहें कि उसका वीर्य 60 सेकंड के भीतर निकल जाता है तो उस स्थिति को शीघ्रपतन कहते हैं।

आपने अपने आसपास के लोगों को अक्सर कहते सुना होगा कि यौन संबंध बनाते समय अगर आप अपनी महिला पार्टनर से पहले स्खलित हो जाते हो तो आपको शीघ्रपतन का रोग है। ऐसी भ्रांति फैलाने वाले लोग आपको अपने आसपास काफी नजर आ जाएंगे जिससे आपके मन में आशंका उत्पन्न होने लगती है कि कहीं मैं भी तो शीघ्रपतन का रोगी नहीं हो चुका हूं? जबकि ऐसा बिल्कुल भी नहीं है।

क्योंकि महिलाओं में उत्तेजना का और स्खलित होने का समय पुरुषों की अपेक्षा कुछ अधिक होता है। जहाँ पुरुष औसतन 6 मिनट के अन्दर अपनी चरम सीमा को प्राप्त कर लेते है वही औरत के स्खलित होने का समय 10 से 20 मिनट तक हो सकता है।

उम्मीद है आपको Shighraptan Kya Hai इसका पता भली-भांति चल गया होगा। आगे हम शीघ्र स्खलन की समस्या है इसके बारे में कैसे जाने इस पर बात करेंगे।

कैसे जाने कि आपको शीघ्रपतन की समस्या है (Method to Know Premature Ejaculation in Hindi)

अब आप सोच रहे होगे कि आखिर यह पता कैसे करें कि हमें शीघ्रपतन की समस्या है या नही।, तो इसकी दो बहुत ही आसान पहचान हम आपको इस लेख के माध्यम से बताएंगे।

1). फोर प्ले से पहले लिंग से पानी जैसा चिपचिपा द्रव निकलना

जब आपकी महिला पार्टनर आपके पास संबंध बनाने के उद्देश्य से आती है और आप एक दूसरे के नजदीक होते हो और फोरप्ले शुरू करते ही आपके लिंग से पानी जैसा हल्का चिपचिपा पदार्थ रिस रिसकर निकलने लगता है तो समझ जाइये आप शीघ्रपतन से पीड़ित हो।

ऐसा होने पर आप सेक्स शुरू करते ही मात्र कुछ ही सेकंड में स्खलित हो जाते हो जब कि आपकी महिला पार्टनर चरम सीमा तक नहीं पहुंच पाती है जिससे आपके रिश्तो में दरार आना शुरू हो जाती है।

2). बातों ही बातों में पानी जैसा द्रव निकलना

जिन लोगों को शीघ्रपतन की समस्या होती है उन्हें कोई सुंदर महिला दिख जाए या किसी सुंदर महिला से बात करने लगे या फिर कोई उत्तेजक फोटो, वीडियो या फिर उनके आपसी मित्र आपस में सेक्स के विषय में कोई बात करने लग जाए तो उनके लिंग से पानी जैसा द्रव पदार्थ निकलने लगता है। अगर आपके साथ भी ऐसा होता है तो समझ जाईये कि आप शीघ्रपतन के शिकार है।

आजकल इस समस्या को लेकर बहुत ज्यादा भ्रांति फैलाई जा चुकी है जबकि यह इतनी गंभीर समस्या नहीं है जो नौजवान अपनी इस समस्या से बहुत परेशान है और वे किसी भी सड़क के किनारे बैठे हकीम या वैद्य से दवाई लेकर आते हैं और वह सड़क के किनारे बैठे हकीम या वैद्य बहुत कम गुणकारी दवा बहुत अधिक दामों में देते है और कहते है कि ये बहुत गंभीर बीमारी है इसका ईलाज महीनो तक चलेगा लेकिन उन्हें उनकी दवा से कोई फायदा नहीं होता है।

आप ना जाने किस-किस के बहकावे में आकर अपनी इस समस्या को बीमारी का रूप दे चुके हो जबकि यह कोई बीमारी नहीं है यह सिर्फ एक अस्थायी समस्या है जो आप घर बैठे थोड़ी सी आयुर्वेदिक दवाइयां लेकर बड़ी आसानी से सुलझा सकते हो।

शीघ्रपतन या शीघ्र स्खलन के आयुर्वेदिक ईलाज के बारे में जानने से पहले आपको यह जानना जरूरी होगा कि आखिर शीघ्रपतन के वे कौन कौन से कारण है जिनकी वजह से आप शीघ्रपतन के शिकार बने हो तो आइये जानते हैं वे कारण जो जाने अनजाने में आपसे हुए हैं या अभी भी होते रहते हैं।

शीघ्रपतन होने के कारण (Causes of Premature Ejaculation in Hindi)

शीघ्रपतन होने के कई कारण हो सकते है जिनका होना आजकल आम बात है। सिर्फ कारण जानना ही औचित्य नहीं होना चाहिए बल्कि एक बार बजह पता लगने के बाद उस काम को छोड़ देना ही समझदारी है। आइये डालते है शीघ्र स्खलन के कुछ कारण –

A. अत्याधिक हस्तमैथुन करना

लगभग 14-15 वर्ष की आयु में बहुत से लड़के हस्तमैथुन की गंदी आदतों में पड़ जाते हैं जबकि उन्हें इसका थोड़ा सा भी ज्ञान नहीं होता है कि वह कितनी बड़ी गलती कर रहे हैं।

इसी चीज का हर्जाना उन्हें अपने शरीर में आने वाली कमजोरी, मानसिक विकास ना होना और अपने आने वाले समय अर्थात विवाह के बाद शीघ्रपतन की समस्या के रूप में देना पड़ता है। कम शब्दों में अगर हम कहे तो अत्यधिक हस्तमैथुन करने से शीघ्रपतन की समस्या बहुत ही जल्दी हमारे सामने आती है।

B. अश्लील फिल्में देखना

आज इंटरनेट का जमाना है बस जेब से फोन निकालना है और मात्र कुछ ही सेकंड में आप लोग अश्लील फिल्मों की उन वेबसाइट पर पहुंच जाते हो जहां से यह शीघ्रपतन या शीघ्र स्खलन की समस्या आपके शरीर में प्रवेश कर जाती है। अश्लील फिल्मे देखने से हमारा ना चाहते हुए भी सेक्स करने के मन करने लगता है, तथा हम बिना किसी साथी के अपनी कामोइक्छा को अपने ही हाथो शांत कर लेते है।

अगर आप भी अश्लील फिल्में देखने की अत्यधिक शौकीन है तो आपको अपनी यह आदत छोड़नी पड़ेगी वरना शीघ्रपतन की समस्या आपका पीछा नहीं छोड़ेंगी।

अश्लील फिल्मों के साथ-साथ अश्लील फोटो देखना अपने दोस्तों के साथ अश्लील बातें करना व हर समय दिमाग में सेक्स से जुड़ी बातों का घूमना बंद करना होगा उसके बाद ही आप अपनी इस समस्या को दूर कर सकोगे।

C. एकांत में रहकर सेक्स से जुड़ी बातें सोचना

आपने शायद कई बार नोटिस भी किया होगा कि जब आप बिल्कुल अकेले होते हो और आप सेक्स से जुड़ी बातें सोचते हो ऐसे कुछ चित्र देखते हो या उस तरह के विचार अपने दिमाग में लाते हो तो कुछ समय बाद आपके लिंग से पानी जैसा द्रव पदार्थ रिस रिसकर बाहर निकलने लगता है।

इसकी मात्रा बहुत ही कम होती है लेकिन ऐसा होना आपके शरीर और दिमाग के लिए बहुत ही ज्यादा नुकसानदायक है और अगर आपके साथ ऐसा होता है तो समझ जाइये आपका वीर्य पतला हो चुका है और आप धीरे धीरे शीघ्रपतन की चपेट में आ रहे हो। एकांत में रहकर सेक्स से जुड़ी बातें सोचना गंदे विचार मन में लाना अश्लील तस्वीरें देखना यह एक शीघ्रपतन की मुख्य बजह है।

👉 क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी > विक्स की भाप लेने के 5 आश्चर्यजनक फायदे

अब बात आती है शीघ्रपतन के आयुर्वेदिक इलाज की, अगर इस समस्या का आयुर्वेदिक ईलाज किया जाए तो आप इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

शीघ्रपतन की आयुर्वेदिक औषधियां (Shighrpatan Ka Ilaj)

आयुर्वेद में बहुत सी ऐसी औषधि है जिनके सेवन से शीघ्रपतन या शीघ्र स्खलन की समस्या को जड़ से मिटाया जा सकता है यह औषधियां धीरे-धीरे आप को फायदा पहुंचाने का काम करती है इसलिये इन औषधियो का सेवन करते समय अपने मन में धैर्य रखें और नियमित रूप से इन औषधियो का सेवन करें।

योग गुरु बाबा रामदेव भी योग से ऐसी समस्या को दूर करने को लेकर काफी चर्चाओं में रहते हैं पतंजलि भी काफी ऐसे उत्पाद बनाता है जिनके लगातार सेवन करने से शीघ्रपतन जैसी समस्याओं को दूर किया जा सकता है। आइये जानते है शीघ्रपतन को ठीक करने की कुछ आयुर्वेदिक औषधियाँ –

i. अंजीर (Anjeer Se Kare Shighrpatan Ka Ilaj)

3-4 सूखे अंजीर रात को एक गिलास दूध में धीरे धीरे पकाने हैं उसके बाद यह दूध जैसे ही हल्का गर्म रह जाए अर्थात गुनगुना दूध रह जाए तब आपको यह दूध पीना है और अंजीर को चबा चबा कर खाना हैं। ऐसा कुछ ही महीनों तक करते रहने से आप शीघ्रपतन की समस्या से मुक्त हो जाओगे आपके भीतर यौन दुर्बलता नहीं रहेगी व वीर्य में शुक्राणुओं की वृद्धि होगी।

ii. बादाम के साथ 4 चीजे (Almond in Premature Ejacualtion)

6-7 बादाम की गिरी के साथ दो काली मिर्च के दाने 2 ग्राम सोंठ और थोड़ी सी मिश्री मिलाकर चबा चबा कर खा लेनी चाहिये और उसके बाद ऊपर से हल्का गुनगुना दूध पी लेना चाहिये ऐसा नियमित रूप से लगातार करने पर आप 2 महीनों में ही अपने संभोग करने की शक्ति में वृद्धि कर पाओगे।

iii. बबूल (Babool Hai Shighrskhlan Ka Ramban Ilaj)

लगभग 500 ग्राम बबूल (कीकर) की फलियों को छाया में सुखा लें और इसमें 500 ग्राम ही मिश्री मिलाकर अच्छे से पीस लें सुबह-शाम एक-एक चम्मच, पानी के साथ इसका सेवन करें। आपका यह मिश्रण खत्म होने से पहले ही आपको महसूस होने लगेगा कि आप शीघ्रपतन की समस्या से मुक्त हो गए हो।

अगर आपको बबूल की फली ना मिले तो आपको बबूल का गोंद लेकर जो कि बाजार में आसानी से मिल जाएगा उसको कढ़ाई में गाय के घी में अच्छे से भून लेना है इसके नियमित सेवन करने से आपके शरीर में वीर्य की वृद्धि होगी वीर्य गाढ़ा होगा और शीघ्रपतन की समस्या दूर होगी।

iv. बड़ी इलायची (Badi Ilaichi Hai Shighrpatan Ka Ilaj)

बड़ी इलायची के दाने और इसबगोल को बराबर मात्रा में लें और थोड़े से आंवले के रस में इन्हें मिलाते रहे और इनकी बेर के आकार की गोलिया बना ले। रोजाना सुबह-शाम एक-एक गोली थोड़े से दूध के साथ खाने से लगभग 2 महीनों के भीतर ही आपको फर्क महसूस होने लगेगा।

v. बहमन लाल (Behman Laal Hai Shighrpatan Ki Dawa)

5-5 ग्राम बहमन लाल सुबह शाम हल्के गर्म दूध के साथ लेना चाहिये। इससे आपके शीघ्रपतन की समस्या कुछ ही हफ्तों में दूर हो जाएगी।

vi. चना (Chana Kare Shighrpatan Ka Ilaj)

एक मुट्ठी चने और 5 बादाम की गिरी शाम को पानी में भिगोकर रख दे सुबह बादाम की गिरी के छिलके उतार कर बादाम और चने को चबा चबा कर खा ले ऊपर से हल्का गुनगुना दूध पी लेना है इससे आपका वीर्य गाढ़ा होगा और शीघ्रपतन की समस्या दूर हो जाएगी।

vii. चने की दाल (Chane Ki Daal in Shighrpatan Problem)

सुबह एक मुट्ठी चने की दाल पानी में भिगोकर रख दें और रात को सोते समय इसमें थोड़ी सी शक्कर मिलाकर खा ले ध्यान रहे इसे खाने के बाद आपको पानी बिल्कुल भी नहीं पीना है यह लगातार कुछ हफ्तों तक करने से धातु की पुष्टि होती है और वीर्य के सभी रोग दूर होते हैं।

viii. छुआरा (Chuara Hai Shighrpatan Ki Dawa)

रोजाना सुबह एक गिलास दूध में चार छुआरे उबालकर खाने के बाद वह गुनगुना दूध पीने से शीघ्रपतन की समस्या दूर होती है।

बाजार में कई प्रकार के छुआरे उपलब्ध है लेकिन आपको काले वाले छुआरे ही उपयोग में लाने हैं।

ix. दालचीनी (Daalchini Hai Shighrpatan Ka Ilaj)

दालचीनी को अच्छे से पीस लें और रात को सोते समय 3 से 4 ग्राम दालचीनी चूर्ण सोते समय हल्के गर्म दूध के साथ लेकर सो जाना है। इसके अलावा आप दालचीनी चूर्ण में थोडी सी मिश्री मिलाकर 2-2 ग्राम चूर्ण को सुबह शाम हल्के गर्म दूध के साथ भी सेवन कर सकते है।

x. धतूरे के बीज (Datura’s Seeds in Premature Ejaculation)

धतूरे के बीज लोंग और अकरकरा इन सभी को बराबर मात्रा में लेकर अच्छे से पीस लो इसके बाद केवल 1 ग्राम चूर्ण लगभग 200ml दूध के साथ दिन में 3 बार सेवन करने से कुछ ही हफ्तों में आपके शीघ्रपतन की समस्या निश्चित रूप से दूर हो जाएगी।

xi. अश्वगंधा, कौंच के बीज, शतावर और सफेद मूसली

यह चार वे महाऔषधि है जिनके सेवन से आप शीघ्रपतन, वीर्य का पतलापन, वीर्य में शुक्राणुओं की कमी, मर्दाना ताकत व स्वप्नदोष इत्यादि इन सभी समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं। इन चारों औषधियों को आप बाजार से चूर्ण के रूप में भी खरीद सकते हैं इन चारों को एक जगह मिलाकर सुबह हल्के गुनगुने दूध के साथ सेवन करना चाहिये। आपने काफी बार योग गुरु बाबा रामदेव को भी पतंजलि के लाइव प्रोग्राम में शीघ्रपतन की समस्या से छुटकारा पाने के लिए इन चार महाऔषधियों के सेवन करने की सलाह देते हुए अवश्य देखा होगा।

👉 क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी > बीटीएस (BTS), करोड़ो लडकियाँ दीवानी हैं इसकी

xii. मिश्री इसबगोल और खसखस

यह तीनों बड़ी आसानी से बाजार में उपलब्ध हो जाते हैं आप को बराबर मात्रा में इन्हें मिलाकर आधा गिलास पानी में आधा चम्मच मात्रा को मिलाकर पी लेना है इससे आपकी शीघ्रपतन की समस्या जल्द ही दूर होने लगी।

xiii. गंगेरन (Gangren Hai Shighrpatan Ka Ilaj)

गंगेरन की छाल बाजार में पंसारी की दुकान से उपलब्ध हो जाती है इसमें बराबर मात्रा में मिश्री को मिला ले। सुबह शाम एक गिलास दूध के साथ 10 ग्राम की मात्रा लेते रहने से दो हफ्तों में ही आपके शीघ्रपतन की समस्या काफी हद तक दूर हो जाएगी।

xiv. जामुन (Jamun Hai Shighrpatan Ki Dawa)

एक गिलास गर्म दूध के साथ रोजाना सुबह शाम जामुन की गुठली का चूर्ण लगभग 5 ग्राम की मात्रा में आपको सेवन करना है इससे आप शीघ्रपतन की समस्या से जल्द ही मुक्त हो जाओगे। जामुन की गुठली के चूर्ण के साथ आपको किसी और दवाई का सेवन नहीं करना है।

ये थे शीघ्र स्खलन रोकने के कुछ सफल उपाए, उम्मीद है आपको ये जरूर पसंद आये होंगे। ये सभी तरीके बहुत ही कारगर है बस आपको इनका नियमित एवं सही तरीके से इस्तेमाल करना है।

👉 पोस्ट पढे > भांग के बीज खाने के है जबरदस्त चमत्कारिक फायदे

शीघ्रपतन रोकने में कुछ कामयाब रामबाण उपाय (Shighrapatan Rokne ke Upaye)

आयुर्वेदिक औषधियों का अगर ठीक से सेवन किया जाये तो शीघ्रपतन की समस्या को जड़ से खत्म किया जा सकता है। शीघ्र स्खलन के आयुर्वेदिक उपचार के आलावा आप कुछ अन्य क्रियाए भी कर सकते है जो इस समस्या में बहुत कारगर है। आइये जानते है शीघ्रपतन को ठीक करने की कुछ उपायों के बारें में –

• ना दिखाए उत्तेजना (Self Control Hai Shighrpatan Ka Ilaj)

कभी भी सेक्स जैसी क्रिया को बहुत ही उत्तेजना के साथ नहीं करना चाहिए। मान लो आपको पसीना आ रहा है, एवं आप भागने-कूदने लग जाते है तो आपको अधिक पसीना आयेगा न कि कम। ठीक ऐसा ही शारीरिक संबंध के साथ है। यदि आपको पहले ही शीघ्रपतन की समस्या है और आप शारीरिक संबन्ध बनाते समय जल्दबाजी करेगे तो आपका वीर्य जल्दी स्खलित हो जायेगा।

सेक्स करते समय हर स्टेप आराम से ले, अपने साथी को सहज करे। जब भी यह अन्तरंग क्रिया करते हुए आपको लगे कि आपका वीर्य स्खलित होने वाला है तो थोड़ा रुक जाये एवं अपने साथी के साथ दूसरी क्रिया करे। ऐसा करने से आपका शारीरिक सम्बन्ध बनाने का समय बढ़ता है।

• शारीरिक संबंध बनाने से पहले अपने साथी से करे बात (Talk to Your Partner about Sex)

सेक्स के बारे में हमे सबसे पहली बात जो ध्यान में रखनी है वह यह है कि सेक्स किसी एक के लिए नहीं दो इंसानों का मेल है। इसलिए आवश्यक है शारीरिक संबंध बनाने से पहले आप अपने पार्टनर से अवश्य बात करे। अपने साथी उनके सेक्स करने को लेकर सवाल पूछे। उनसे पूछे उन्हें के करना अधिक अच्छा लगता है, उन्हें किस चीज में अधिक आनंद आता है।

कभी भी अपने साथी को शारीरिक संबंध बनाने पर मजबूर न करे। उन्हें सेक्स की वह क्रिया करने के लिए विवश न करे जो उन्हें अच्छा नहीं लगता। संबंध बनाते समय खुद को एवं अपने साथी को हल्का महसूस करने दे। ऐसा करना ना केवल आप दोनों को अधिक आनंदित करेगा बल्कि वीर्य स्खलन रोकने में भी मददगार साबित होगा।

👉 क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी > चिया बीज है बहुत सस्ते लेकिन बिमारियों पर है भारी, जाने इसके फायदे

FAQs (शीघ्रपतन से जुड़े सवाल-जबाब)

सवाल – शीघ्रपतन का स्थाई इलाज क्या है?

जबाब – कुछ लोगो का मानना है कि शीघ्रपतन का इलाज नहीं किया जा सकता। लेकिन ऐसा नहीं है, आयुर्वेद के अनुसार कुछ ही समय में शीघ्रपतन की समस्या से निजात मिल सकती है। शीघ्रपतन ठीक करने के लिए गंगरेन, अश्वगंधा, चना आदि के प्रयोग किया जा सकता है। शीघ्रपतन का स्थाई इलाज पोस्ट में बताया गया है।

सवाल – एक दिन में कितना स्पर्म बनता है?

जबाब – कई संस्थायो के द्वारा रिसर्च की गई है जिनके अनुसार एक मिनट में 90 हजार स्पर्म तथा एक दिन में लगभग 12 करोड़ स्पर्म बनते है।

सवाल – कितने दिन में शारीरिक संबंध बनाने चाहिए?

जबाब – आयुर्वेद के अनुसार एक महीने में दो बार से अधिक शारीरिक संबंध बनाने से परहेज करना चाहिए। मनुष्य के अन्दर स्वस्थ वीर्य के बनने में 30 दिनों का समय लग जाता है, इसलिए अधिक वीर्य स्खलन ठीक नहीं है।

आज हमने क्या जाना?

अंत में हम आपको इस लेख के माध्यम से यह जरूर बताना चाहेंगे कि शीघ्रपतन कोई गंभीर बीमारी नहीं है यह एक अस्थायी अर्थात थोड़े समय की समस्या है जिसका आधा समाधान तो आप खुद पर कंट्रोल रखकर ही कर सकते हैं।

जैसे कि हम फिर से दोहराना चाहेंगे एकांत में सेक्स संबंधित फोटो देखना, अपने मन में गंदे विचार लाना या किसी महिला को देखते ही उसके बारे में सेक्स संबंधित बातें सोचना, हर समय अपने दोस्तो के साथ सेक्स संबंधित बातें करना और पॉर्न मूवी देखना इत्यादि से पूरी तरह से बचे। अगर आप अपनी इन आदतों पर रोकथाम करते हैं तो निश्चित तौर से आपकी समस्या का समाधान काफी हद तक हो जाएगा और बाकी का समाधान हमने ऊपर लेख में कुछ आयुर्वेदिक औषधिया बताई है आप उनका सेवन नियमित रूप से कर सकते हैं।

आज हमने शीघ्रपतन का आयुर्वेदिक इलाज (Treatment of Premature Ejaculation in Hindi) की इस पोस्ट में शीघ्रपतन की समस्या क जड़ से खत्म करने के बारे में जाना। हमने Shighrpatan Kya Hai, Shighrpatan Ka Ilaj, Shighrptan Ki Dawa, शीघ्र स्खलन का रामबाण इलाज एवं शीघ्र स्खलन का आयुर्वेदिक इलाज आदि विषयों पर विस्तृत रूप से चर्चा की।

शीघ्रपतन की समस्या का समाधान करने के लिए हमारी ओर से बताई गई ये औषधियां और हमारी ओर से किया गया यह प्रयास आपको कैसा लगा नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर लिखना।

सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली पोस्ट

2 thoughts on “(Shighrapatan) शीघ्रपतन का जबरदस्त आयुर्वेदिक ईलाज | Premature Ejaculation in Hindi”

    1. हम उम्मीद करते है दीपक जी यह लेख आपकी ज़िन्दगी में मददगार साबित होगा. पोस्ट पढने एवं कमेंट करने के लिए धन्यवाद

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *