5 मिनट में जाने गूगल क्लासरूम क्या है, उपयोग कैसे करे | Google Classroom in Hindi

गूगल क्लासरूम क्या है (Google Classroom in Hindi) गूगल क्लासरूम में क्लास कैसे बनाये, जॉइन कैसे करे, विशेषता, फायदे (How to Create or Join Google Classroom, Features, Benefits in Hindi)

google-classroom-in-hindi
गूगल क्लासरूम क्या है – Google Classroom in Hindi

जैसे-जैसे तकनीक क्षमता में वृद्धि हो रही है वैसे ही सीखने की नई पद्धतियाँ उत्पन्न हो रही हैं। इस इन्टरनेट के युग में अचानक से तीन से चार वर्षो में ऑनलाइन शिक्षा का महत्व बहुत तेजी से बढ़ा हैं। चाहे स्कूल की पढाई हो या कॉलेज की या फिर कोई अलग कौशल सीखना है आजकल अधिकतर लोग ऑनलाइन शिक्षा को ही महत्व दे रहे है।

अध्यापक भी बच्चो को घर बैठे ही बिलकुल विद्यालय जैसी शिक्षा प्रदान कर रहे है। शिक्षा को और अधिक सार्थक करने के लिए गूगल ने भी अपनी तरफ से एक बहुत सराहनीय कदम उठाया है और वह है गूगल क्लासरूम का निर्माण करके। आइये जानते है यह गूगल क्लासरूम क्या है (Google Classroom in Hindi) तथा गूगल क्लासरूम कैसे काम करता है।

गूगल क्लासरूम क्या है (Google Classroom in Hindi)

गूगल क्लासरूम गूगल कंपनी के द्वारा निर्मित किया गया एक प्लेटफार्म है जिसका उपयोग एक इंसान दुसरे इन्सान को ऑनलाइन शिक्षा प्रदान करने के लिए कर सकता हैं। गूगल द्वारा बनाया गया यह शैक्षणिक सॉफ्टवेयर उन अध्यापकों व विद्यार्थियों के लिए बहुत लाभ देने वाला है जो मुफ्त में शिक्षा का आदान-प्रदान करना चाहते हैं। गूगल एक अध्यापक को यह सुविधा देता है कि वह गूगल क्लासरूम में एक क्लास बना सकता है जिसमे वह अपने शिष्यों को पढ़ा सकता है तथा गृहकार्य, असाइनमेंट आदि भी दे सकता हैं।

यदि आप एक अध्यापक है तथा एक ऐसे सॉफ्टवेयर की तलाश में है जिससे फ्री में शिक्षा का प्रसार किया जा सके तो आपके लिए गूगल क्लासरूम एक बढ़िया माध्यम साबित होगा। आप बिना कोई मेहनत के अपना क्लासरूम बना सकते है तथा यह कैसे काम करता है जान सकते हैं। आइये जानते है गूगल क्लासरूम कैसे काम करता है।

गूगल क्लासरूम का इतिहास (History of Google Classroom in Hindi)

गूगल कंपनी द्वारा गूगल क्लासरूम के बारे में घोषणा 6 मई, 2014 को की गयी थी उस समय पर गूगल के जी सुइट (गूगल वर्कस्पेस) के कुछ सदस्यों के सामने इसे प्रस्तुत किया गया था। गूगल क्लासरूम को अधिकारिक रूप से या सार्वजनिक रूप से 12 अगस्त, सन् 2014 में अस्तित्व में लाया गया था। तब से अब तक इस प्लेटफार्म में काफी बदलाब हुए हैं जैसे कि सन् 2015 में फाइल साझा करने के लिए बटन लाया गया।

समय-समय पर गूगल क्लासरूम में कई फीचर्स लाकर जैसे गूगल कैलेंडर, क्लासवर्क सेक्शन, ग्रेडिंग इंटरफ़ेस को अधिक लाभदायक किया गया। सन् 2019 में असाइनमेंट फीचर को और अधिक अच्छा किया गया तथा 2020 में Google Meet व अन्य गूगल के कमाल के प्लेटफॉर्म्स को गूगल क्लासरूम के साथ सम्बंधित किया गया।

प्लेटफार्म गूगल क्लासरूम
विकासकर्ता गूगल कंपनी
रिलीज़ दिनांक 12 अगस्त, सन् 2014
प्रकार शैक्षिक सॉफ्टवेयर
किन ऑपरेटिंग सिस्टम पर चलता हैं?Android, iOS, Web App
क्यों प्रसिद्ध हैं?मुफ्त में ऑनलाइन शिक्षा के प्रसार करने के लिए
कौन उपयोग कर सकता हैं?कोई भी

गूगल क्लासरूम की कार्य पद्धति (Working Process of Google Classroom in Hindi)

किसी भी व्यक्ति के लिए गूगल क्लासरूम इस्तेमाल करना बेहद ही आसान है। यदि आप अध्यापक है तो आपको क्लास बनाकर उसमे विद्यार्थियो को जोड़ना है। एवं यदि आप विद्यार्थी है तो आपको अपने अध्यापक से गूगल क्लासरूम का कोड लेकर ज्वाइन करना हैं। गूगल क्लासरूम की सहायता से विद्यार्थियो को पढ़ाने के लिए आपको पहले इसमें अपना अकाउंट बनाना होगा, फिर कक्षा बनानी होगी तथा उसके बाद अपने शिष्यों को उसमे जोड़ना होगा।

गूगल क्लासरूम के लाभ/फायदे (Benefits of Using Google Classroom in Hindi)

विद्यार्थियों को ऑनलाइन शिक्षा प्राप्त कराने के लिए गूगल क्लासरूम का प्रयोग करने के बहुत अधिक फायदे हैं। इन्ही फायदों की बजह से लाखों लोग Google Classroom से शिक्षा का प्रसार कर रहे हैं। चलिए जानते है गूगल क्लासरूम के फायदे के बारे में

1. आसान माध्यम

गूगल क्लासरूम का सबसे बड़ा लाभ जो मुझे नजर आता हैं वह है इसका प्रयोगकर्ता अंतरपृष्ठ (User Interface). हम सभी जानते है कि हर इन्सान प्रत्येक कार्य में कुशल नहीं हो सकता, उसी प्रकार हर अध्यापक हर कार्य करने में निपुण नहीं होता। हो सकता है आपके कोई इतिहास के बहुत मेधावी अध्यापक हो लेकिन वह तकनीक की उतना ज्ञान न रखते हो। टेक्नोलॉजी का अधिक ज्ञान न रखने वालो के लिए ऑनलाइन पढाई कराने में मुश्किल हो सकती हैं।

लेकिन गूगल क्लासरूम का उपयोग करके, टेक्नोलॉजी का कम ज्ञान रखने वाला अध्यापक भी आसानी से छात्रों को पढ़ा सकता हैं। इसका यूजर इंटरफ़ेस इतना शुगम है कि इसे आसानी से समझा जा सकता हैं। आप बड़ी आसने से क्लास बना सकते हैं व विद्यार्थियो को क्लास में ज्वाइन करा सकते हैं।

2. मुफ्त प्लेटफार्म

जहाँ अधिकतर ऑनलाइन शिक्षा में मदद करने वाले प्लेटफार्म को उपयोग करने के लिए अच्छी-खासा शुल्क अदा करना पड़ता हैं वही गूगल ने Google Classroom को बिल्कुल मुफ्त में उपलब्ध कराया हैं। जिसका मतलब है अध्यापको व उनके शिष्यों को गूगल क्लासरूम का इस्तेमाल करने के लिए कोई पैसा खर्च करने की जरुरत नहीं हैं। गूगल क्लासरूम का उपयोग करने के लिए बस आपके पास एक मोबाइल या लैपटॉप इन्टरनेट कनेक्टिविटी के साथ व गूगल अकाउंट की आवश्यकता हैं।

3. बेहतरीन फीचर्स

गूगल क्लासरूम के इतनी जल्दी प्रख्यात होने के सबसे बड़ा कारण है इसके फीचर्स। इसमें आपको इस्तेमाल करने के लिए ऐसे फीचर मिल जायेंगे जिनकी कल्पना आप किसी पैसो वाले एजुकेशन प्लेटफार्म से भी नहीं कर सकते हैं। Google क्लासरूम की सहायता से एक शिक्षक अपने विद्यार्थियों को असाइनमेंट दे सकता हैं, उन्हें हल करने के लिए प्रश्न दे सकता हैं। तथा छात्र भी उन असाइनमेंट व प्रश्नों को हल करके आसानी से इस प्लेटफार्म के द्वारा अपने टीचर को सबमिट कर सकते हैं।

4. समय बचाता हैं

हम सभी के लिए सबसे कीमती चीज होती हैं समय। हर अध्यापक अपने छात्रों को अधिक से अधिक सिखाना चाहता हैं तथा छात्र भी कम समय में बेहतर परिणाम चाहते हैं। गूगल क्लासरूम में सबकुछ करना इतना शुगम हैं कि छात्रों को समझाने में व कोई भी कार्य देने में बहुत ही कम समय की खपत होती हैं। चूँकि गूगल क्लासरूम, गूगल के अन्य प्लेटफार्म जैसे गूगल डॉक्स, ड्राइव, जीमेल, मीट आदि से जुड़ा है इसलिए अध्यापको तथा छात्रों को कोई भी फाइल या अन्य दस्तावेज एक-दुसरे से साझा करने में कोई परेशानी नहीं होती व समय की बचत होती हैं।

गूगल क्लासरूम पर अकाउंट कैसे बनाए (How to Create Account in Google Classroom in Hindi)

Google Classroom में अकाउंट बनाना बहुत ही आसान है बस आपको नीचे बताये गए बिंदुओ का लिखे अनुसार अनुसरण करना हैं

  • गूगल क्लासरूम में अकाउंट बनाने के लिए आपके पास जीमेल (Gmail) का अकाउंट होना चाहिए। आपको अकाउंट के साथ-साथ उसका पासवर्ड भी याद होना चाहिए
  • गूगल क्लासरूम में आप दो प्रकार से अपना अकाउंट निर्मित कर सकते हैं पहला गूगल के प्ले स्टोर से एप्लीकेशन डाउनलोड करके उसमे अपनी जीमेल आईडी से लॉग इन करना होगा। दूसरा तरीका है सीधे गूगल क्लासरूम पर जाकर अपनी जीमेल आईडी से लॉग इन करना
  • हमने आपके लिए दोनों तरीको से अकाउंट बनाने के लिए विकल्प नीचे दे दिए है आप चाहे तो नीचे दिए गए गूगल प्ले स्टोर के लिंक से गूगल क्लासरूम एप्लीकेशन डाउनलोड करके अकाउंट create कर सकते है या फिर वेबसाइट पर जाकर अकाउंट बना सकते हैं

गूगल क्लासरूम प्ले स्टोर लिंक (Google Classroom App) – गूगल क्लासरूम एप्लीकेशन

गूगल क्लासरूम वेबसाइट (Google Classroom Login) – classroom.google.com

आप ऊपर बताये गए किसी भी लिंक पर क्लिक करके गूगल क्लासरूम में सम्मलित हो सकते हैं।

गूगल क्लासरूम में क्लास कैसे बनाए (How to Create Class in Google Classroom in Hindi)

गूगल क्लासरूम में अकाउंट बनाने के बाद बारी आती है क्लास (कक्षा) बनाने की। इसमें क्लास बनाना तकनीक की अधिक जानकारी न रखने वाले अध्यापक के लिए भी बहुत आसान हैं। आइये जानते है गूगल क्लासरूम में क्लास कैसे बनाते है

  • गूगल क्लासरूम में क्लास बनाने के लिए पहले आपको अपने गूगल अकाउंट से लॉग इन करना होगा।
  • आप चाहे तो ऊपर दिए गए लिंक से लॉगिन कर सकते है या फिर गूगल में सीधा Google Classroom सर्च करके लॉगिन कर सकते हैं
  • Google Classroom में Login करने के बाद आपको दाई तरफ एक प्लस (+) का चिन्ह दिखाई देगा, आपको इस + के आइकॉन पर क्लिक करना हैं
  • प्लस (+) के चिन्ह पर क्लिक करते ही आपको Create Class का विकल्प दिखाई देगा। आपको Create Class के विकल्प पर क्लिक कर देना हैं।
  • जैसे ही आप Create क्लास के ऑप्शन को चुनते हैं आपके सामने “टर्म्स एंड कंडीशनस” के पेज खुलेगा। आपको इस पेज के नीचे Agree वाले ऑप्शन को सेलेक्ट करके Continue पर क्लिक कर देना हैं
  • Terms and Conditions को स्वीकार करने के बाद खुलने वाले पेज पर आपको कुछ महत्वपूर्ण जानकारियाँ जैसे Class Name(कक्षा का नाम), Section (क्लास का कौन सा सेक्शन है A,B or C), Subject (विषय का नाम ) एवं Room (छात्रों की संख्याँ) आदि पूर्ण रूप से भरकर Create बटन पर क्लिक करना हैं।
  • जैसे ही आप सभी जानकरी भरकर Create बटन पर क्लिक करते है आपकी क्लास बन जाएगी। अब आप अपने छात्रों को गूगल की इस कक्षा में सम्मलित या जॉइन करा सकते है तथा उन्हें पढ़ाना शुरू कर सकते हैं।

गूगल क्लासरूम को विद्यार्थी कैसे ज्वाइन कर सकते है (How to Join Google Classroom in Hindi)

छात्र आसानी से गूगल क्लासरूम की क्लास ज्वाइन कर सकते हैं बस उन्खे पास उनके अध्यापक का Class Code होना चाहिए। अब आप सोचा रहे होंगे Class Code क्या होता हैं? दरअसल जब एक शिक्षक गूगल क्लासरूम बनाता है उसे एक कोड मिलता है जिससे वह किसी को भी अपने द्वारा बनायीं गयी क्लास में ज्वाइन करा सकता हैं। इस कोड को ही गूगल क्लासरूम कोड कहते हैं।

  1. सबसे पहले छात्रों को Google Classroom अकाउंट में अपने गूगल अकाउंट (जीमेल) के द्वारा लॉग इन करना हैं।
  2. लॉगिन करने के बाद आपको एक ‘+’ का आइकॉन दिखाई देगा जिस पर आपको क्लिक करना हैं।
  3. प्लस “+” के आइकॉन पर क्लिक करते ही आपके सामने दो विकल्प खुलेंगे, Create Class व Join Class के नाम से। छात्रों को Join Class वाले विकल्प का चुनाव करना हैं।
  4. जैसे ही आप Join Class विकल्प पर क्लिक करते हैं आपको Class Code डालने का विकल्प दिखाई देगा।
  5. आपको आपके टीचर द्वारा दिया गया Class Code यहाँ पर डालकर Join पर क्लिक कर देना हैं।
  6. बस इतना करने पर ही आप क्लास में ज्वाइन हो जाते है एवं अपने अध्यापक से पढ़ना शुरू कर सकते हैं।

गूगल क्लासरूम में छात्रों को असाइनमेंट, प्रश्न व उत्तर जैसे भिभिन्न कार्य कैसे दे?

  • अपने छात्रों को गृहकार्य प्रदान करने के लिए आपको सबसे पहले आपके द्वारा बनायीं गयी क्लास में जाना हैं। जहाँ आपको CLASSWORK नाम का विकल्प दिखाई देगा।
  • आपको CLASSWORK विकल्प पर क्लिक करना हैं। इस पर क्लिक करते ही आपके सामने कई विकल्प खुल जायेंगे।
  • CLASSWORK में आपको Assignment, Question, Material जैसे कई ऑप्शन खुल जायेंगे। अब आपको जैसा भी कार्य अपने छात्रों को देना है उस विकल्प का चुनाव कर सकते हैं।
  • मान लो अध्यापक को अपने विद्यार्थी को Assignment देना हैं तो शिक्षक को असाइनमेंट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

 👉 क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी > ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर हम सभी के लिए इतना महत्वपूर्ण क्यों हैं?

गूगल क्लासरूम की विशेषता (Features of Google Classroom in Hindi)

गूगल क्लासरूम एक बहुत ही कारगर प्लेटफार्म है जो विद्यालयों को मुफ्त में ऑनलाइन शिक्षा प्रसार करने में सहायता कर रहा हैं। जिस प्रकार के फीचर्स Google Classroom में प्रदान कराता हैं वो शायद ही किसी अन्य सॉफ्टवेयर में होंगे। चलिए जानते है कि गूगल क्लासरूम में ऐसी क्या विशेषताएँ हैं जो इसे अन्य सभी शैक्षिक प्लेटफार्म से अलग बनाती हैं।

1) गूगल क्लासरूम का असाइनमेंट कैलेंडर फीचर

जब आप अपने गूगल क्लासरूम में CLASSWORK बटन में जाते है तो आपको कई विकल्प मिलते है जिनमे से एक है Assignment. यह असाइनमेंट फीचर अध्यापकों एवं छात्रों के लिए एक बहुत ही बढ़िया फीचर हैं। टीचर अपने विद्यार्थियो को बड़ी आसानी से एक क्लिक में असाइनमेंट करने के लिए दे सकते हैं। छात्र भी असाइनमेंट पूर्ण करके बेहद ही शुगामता से गूगल क्लासरूम के द्वारा अपने गुरु को सबमिट कर सकते हैं।

असाइनमेंट फीचर में ही आपको एक केलेंडर मिलता हैं जिसका काम विद्यार्थियो की काम पर नजर रखना हैं। मतलब जैसे की आपने आज छात्रों को असाइनमेंट या प्रश्न हल करने के लिए दिए तो आप केलेंडर में सेट कर सकते हो कि असाइनमेंट कब तक सबमिट करना हैं। यदि कोई छात्र असाइनमेंट तय समय पर पूर्ण करके सबमिट नहीं करता तो आपको केलेंडर के द्वारा इसका पता चल जायेगा।

2) लाइव कक्षा (Live Class)

गूगल क्लासरूम से आप न केवल अपने विद्यार्थियो को असाइनमेंट आदि कार्य दे सकते हैं इसके आलावा आप उनसे आमने-सामने बात भी कर सकते हैं। गूगल क्लासरूम सीधे तौर पर गूगल के अन्य प्लेटफार्म से जुड़ा हैं जिनमे से एक है Google Meet. शिक्षक आराम से गूगल मीट के द्वारा अपने छात्रों से वार्तालाप कर सकते हैं तथा उन्हें किसी भी विषयों को बिल्कुल स्कूल में लगने वाली कक्षा की तरह पढ़ा सकते हैं। अध्यापक एक साथ लाइव क्लास में 250 छात्रों को जोड़ सकते हैं तथा एक लाख तक लोग इस क्लास को लाइव देख सकते हैं।

3) ग्रेडिंग सिस्टम

ग्रेडिंग सिस्टम एक बेहतरीन फीचर है जो गूगल क्लासरूम को सबसे भिन्न बनाता हैं। शिक्षक गूगल क्लासरूम में एक ग्रेडिंग सिस्टम का चुनाव कर सकता हैं व ग्रेड की श्रेणी बना सकता हैं। जब अध्यापक छात्रों को एक कार्य करने के लिए देता है तो यह बहुत ही आवश्यक हैं कि छात्रों की उस कार्य में प्रगति का अच्छे से मापन किया जाये। ग्रेडिंग सिस्टम का प्रयोग करके शिक्षक, विद्यार्थियो को उनके द्वारा प्रश्नों आदि को हल करे अनुसार परिणाम या ग्रेड दे सकते हैं।

4) वर्चुअल विचार – विमर्श (चर्चा)

गूगल क्लासरूम में जब शिक्षक छात्रों को देख न रहा हो तो उस समय छात्रों का ध्यान आकर्षित करने का बहुत ही बढ़िया तरीका है वर्चुअल विचार-विमर्श। आप Virtual Discussion करके शिक्षार्थियों से कुछ प्रश्न पूछ सके हैं तथा उनसे गूगल डॉक्स पर कमेंट करने को कह सकते हैं। इस से अध्यापक को भी शिक्षार्थियों का पता चलता रहेगा तथा वह खुद भी छात्रों को उनके उत्तर के लिए फीडबैक दे सकता हैं। शिक्षक चाहते तो इस फीचर की सहायता से कुछ शिक्षार्थियों को कमेंट या पोस्ट करने से रोक भी सकता हैं।

FAQ (सवाल-जबाब)

सवाल – गूगल क्लासरूम क्या हैं?

उत्तर – गूगल क्लासरूम, गूगल कंपनी के द्वारा विद्यालयों को ध्यान में रखकर बनाया गया शिक्षा को शुगम बनाने वाला मुफ्त प्लेटफार्म हैं। इसके द्वारा शिक्षक किसी भी स्थान से ऑनलाइन छात्रों को पढ़ा सकता हैं, असाइनमेंट दे सकता हैं उनके साथ कोई भी फाइल साझा कर सकता है या उनसे प्राप्त कर सकता है।

सवाल – क्या गूगल क्लासरूम उपयोग करना मुफ्त है?

जबाब – हाँ, गूगल क्लासरूम को कोई भी बिना किसी शुल्क दिए उपयोग कर सकता हैं यह पूरी तरह से मुफ्त हैं।

सवाल – गूगल क्लासरूम कैसे खोलें?

जबाब – गूगल क्लासरूम खोलने के लिए आपको अपने गूगल अकाउंट (जीमेल आईडी) का इस्तेमाल करना होगा। आप गूगल में Google Classroom login लिख कर सर्च करे तथा पहले लिंक पर sign in केर लीजिये। बस इतना करते ही आपका गूगल क्लासरूम खुल जायेगा।

आज हमने क्या जाना?

आज हमने गूगल क्लासरूम क्या है (Google Classroom in Hindi) की इस पोस्ट में गूगल क्लासरूम में क्लास कैसे बनाये. क्लास कैसे ज्वाइन करे, गूगल क्लासरूम के फायदे, फीचर्स आदि के बारे में जाना! गूगल क्लासरूम एक बहुत ही बढ़िया प्लेटफार्म है जिसे कोई भी व्यक्ति शिक्षा के प्रसार के लिए उपयोग में ला सकता हैं!

ये महत्वपूर्ण लेख भी पढ़े

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *