अमेजन क्या है, कैसे हुई इसकी कीमत 140 लाख करोड़ से ज्यादा | Amazon in Hindi

अमेजन क्या है (Amazon in Hindi) अमेज़न के मालिक, बोर्ड के सदस्य, अमेज़न का इतिहास (Amazon Kya Hai, History of Amazon in Hindi, Owner and Board of Members of Amazon in Hindi)

amazon-in-hindi-amazon-kya-hai
Amazon Kya Hai – Amazon in Hindi

कंप्यूटर के अविष्कार ने हमारे जीवन में क्रांति ला दी, इसकी मदद से हर छोटी से बड़ी जानकारी को संगृहीत रखना बड़ा ही आसान बन गया। फिर हुआ इन्टरनेट तथा वेबसाइट का अविष्कार जिसने हम इंसानों का जीवन ही बदल के रख दिया। आज ऐसा कौन व्यक्ति होगा जिसे इन्टरनेट का ना पता हो, ज्यादातर लोग इसके उपयोग से लाभान्वित हो रहे है।

कुछ लोगों के लिए तो इन्टरनेट एक वरदान साबित हुआ, उन्ही में से एक व्यक्ति है “जेफ़ बेजोस”। ये वही व्यक्ति है जिन्होंने बहुत जीनियस व्यक्तियो से पहले इंटरनेट की ताकत को पहचाना एवं अमेज़न को बना डाला।

आइये जानते है अमेज़न क्या है (Amazon Kya Hai) एवं कैसे इसने एक साधारण सा ऑनलाइन बुक स्टोर चलाने वाले इन्सान “जेफ़ बेजोस” को संसार का सबसे अमीर आदमी बना दिया।

अमेजन क्या है (Amazon Kya Hai)

अमेज़न अमेरिका देश की एक टेक्नोलॉजी कंपनी है जो ई-कॉमर्स, क्लाउड कंप्यूटिंग, डिजिटल स्ट्रीमिंग (ऑडियो व विडियो) एवं आर्टिफीसियल इंटेलीजेन्स आदि क्षेत्रो में अपनी सेवाएँ देती है।

मैं, आप और दुनिया के अधिकतर लोग अमेज़न को ऑनलाइन खरीदारी के लिए भली भाँति जानते है। आपने भी कभी न कभी amazon.com वेबसाइट से कुछ न कुछ ख़रीदा होगा। यह दुनिया की ऑनलाइन सामान बेचने की वेबसाइट में टॉप स्थान पर आती है।

कहा जाता है ऐसा शायद कोई ही सामन होगा जो आप अमेज़न कंपनी की वेबसाइट से नहीं खरीद सकते। इस वेबसाइट को ग्राहकों को हर तरह की वस्तु प्राप्त कराने के लिए जाना जाता है।

अमेज़न का इतिहास (History of Amazon in Hindi)

अमेजन कंपनी का इतिहास सिर्फ जानने के लिए नहीं है बल्कि इसमें बहुत कुछ सीखने के लिए है। यदि आप शुरू से लेकर आखिर तक इस कंपनी की यात्रा के बारे में पढ़ते है निश्चित रूप से आप समझ जायेंगे कि एक सफल कंपनी कैसे बनती है। आइये डालते है एक नजर अमेज़न कम्पनी के इतिहास पर

अमेज़न।कॉम या अमेज़न कंपनी की स्थापना 5 जुलाई, 1994 को अमेरिका के वाशिंगटन राज्य के बेलेव्यू शहर में जेफ़ बेजोस द्वारा की गयी थी। शुरू में इस कंपनी का नाम अमेज़न नहीं था बल्कि इसका नाम कैडबरा था। बेजोस की इस कंपनी की शुरुआत उनके किराये पर लिए घर के गैराज में हुई थी। उनके इस स्टार्टअप पर उनके माँ-बाप को भी पूरा विश्वास था इसलिए उनके माता-पिता ने अमेज़न कंपनी में $250,000 लगाये थे।

कंपनी अमेज़न (Amazon)
संस्थापक जेफ़ बेजोस
कंपनी का प्रकार सार्वजानिक
अमेज़न का पुराना नाम Cadabra, Inc.
स्थापना वर्ष 5 जुलाई, 1994
मुख्यालय सिएटल, वाशिंगटन (अमेरिका)
चेयरमैन जेफ़ बेजोस
मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO)एंडी जेसी
वेबसाइट amazon.com

जेफ़ ने अपनी ऑनलाइन साईट amazon.com पर बेचने के लिए 10 से 20 उत्पादों की लिस्ट बनायीं, जिनमे सीडी (CDs), पुस्तके, कंप्यूटर हार्डवेयर व सॉफ्टवेयर तथा वीडियोस आदि बेचना शामिल था। फिर उन्होंने पुस्तकों की पुरे अमेरिका व दुनिया के भिन्न-भिन्न देशो में माँग होने के कारण इन्हें ही बेचने का निर्णय लिया।

amazon.com पर जो सबसे पहली किताब बेचीं गयी थी वह अमेरिका के प्रसिद्ध भौतिकी तथा संज्ञानात्मक ज्ञान के दार्शिनिक डगलस रिचर्ड हॉफस्टैटर की किताब “द्रव अवधारणाएं और रचनात्मक उपमाएं: विचार के मौलिक तंत्र के कंप्यूटर मॉडल” (Fluid Concepts and Creative Analogies: Computer Models of the Fundamental Mechanisms of Thought) थी। अपनी शुरुआत के 2 महीनो के भीतर ही अमेजन ने $20000/सप्ताह के हिसाब से अमेरिका तथा अन्य 45 देशों में किताबे बेचीं थी।

अमेज़न कंपनी ने $18 प्रति शेयर के हिसाब से 15 मई, 1997 को शेयर बाजार में कदम रखा एवं अपना पहला आईपीओ निकाला।

ग्राहक खरीदारी करने के लिए अमेज़न को इतना क्यों पसंद करते है?

दुनिया की कोई भी कंपनी अपने ग्राहकों को संस्तुष्ट किये बिना कामयाब नहीं हो सकती है। अमेज़न कंपनी की अपार सफलता का एक यह भी कारण है कि इसने अपने ग्राहकों की पसंद पर बहुत अधिक ध्यान दिया। ऐसा नही है कि ऑनलाइन खरीदारी करने के लिए लोगों के पास सिर्फ अमेज़न ही विकल्प है, ऐसी कई अन्य कंपनियाँ मौजूद है जो ऑनलाइन सामन बेचती है। अन्य ई-कॉमर्स वेबसाइट को छोड़कर लोगो ने अमेजन को पसंद किया इसके कई कारण है जिनमे से कुछ निम्नलिखित है –

  • ग्राहकों को अमेज़न की सबसे अच्छी सर्विस लगती है इनकी तेज डिलीवरी। आपने आज कुछ अमेज़न की वेबसाइट से ख़रीदा तो हो सकता है ये आज ही वह वस्तु आपके घर पहुंचा दे। किसी भी इन्सान को अधिक इन्तेजार पसंद नहीं, और इसका ध्यान यह कंपनी बहुत रखती है कि सामान कस्टमर तक पहुँचने में देर ना हो।
  • “कीमत पर छूट” दूसरा सबसे बड़ा कारण है जिस बजह से लोग अमेज़न से खरीदारी करना पसंद करते है। आप कभी किसी सामान की कीमत बाजार में पता करके आना फिर उसे अमेज़न की वेबसाइट पर देखना, आप पाएंगे कि ऑनलाइन आपको वह सामान सस्ती कीमत में मिलेगा। यह एक बहुत बड़ी बजह है जिस लिए लोग अमेज़न से सामान क्रय करना पसंद करते है।
  • यदि आप बाजार जाते है तो आपका जाने का कुछ किराया लगेगा। बाजार से सामान खरीद कर लाने में ना केवल हमारे आने-जाने के पैसे खर्च होते है, बल्कि हमे थकान भी अनुभव होती है। अगर हम अमेज़न से सामान आर्डर करते है तो ना केवल हमारे बाजार जाने के पैसे बचते है, क्योंकि सामान हमारे घर पर ही आ जाता है तथा हमे छूट भी मिल जाती है और थकन भी नहीं होती।
  • किसी भी उत्पाद को बाजार से खरीद कर घर लाने में सबसे बड़ी परेशानी होती है पसंद ना आने पर उसे लोटाने की। यदि उत्पाद में कोई खामी है या हमे वह पसंद नहीं आ रहा है तो हमे से लौटने फिर से बाजार जाना पड़ेगा। और यह भी हो सकता है कि दुकानदार सामान को वापस ही ना करे। लेकिन अमेज़न से शोपिंग करने में यही फायदा है पसंद ना आने पर आप सामान को लौटा भी सकते है वो भी बिल्कुल मुफ्त में।
  • अमेजन की ई-कॉमर्स वेबसाइट हमे बहुत सारे उत्पादों में से चुनने का विकल्प देती है। बाजार में जाने पर हो सकता है आपको सारा सामान एक ही दुकान पर ना मिले, जिस कारण आपको अलग-अलग दुकानों पर जाना पड़ेगा। लेकिन अमेज़न पर आप अपनी आवश्यकता का कोई भी उत्पाद खरीद सकते है वो भी अपने घर बैठे, इन्हों कारणों की बजह से तो लोग अमेज़न को इतना पसंद करते है।
  • अमेज़न की वेबसाइट से सबसे अधिक खरीदारी त्योहारों पर होती है। ऐसा होने की सबसे बड़ी बजह है त्योहारों पर उत्पादों की कीमत पर मिलने वाली छूट। दीपावली, क्रिसमस तथा होली आदि कुछ ऐसे त्यौहार है जब आप अमेज़न ऑनलाइन स्टोर से बहुत ही कम कीमत पर अपनी रोज काम में आने वाली चीजे खरीद सकते है।

तो ये तो कुछ कारण जिनकी बजह से ग्राहक अमेज़न ई-कॉमर्स साईट से खरीदारी करना इतना पसंद करते है। वैसे तो ये सुविधा अन्य ई-कॉमर्स स्टोर भी देते है लेकिन अमेज़न की सुविधा सबसे बढ़िया एवं किफायती है।

अमेज़न कंपनी का नाम अमेज़न पढ़ने के पीछे की दिलचस्प कहानी (How Amazon Company got its Name)

कंपनी का नाम कैडबरा (Cadabra) से बदलकर अमेजन (Amazon) करने के पीछे बहुत ही दिलचस्प घटना है। कहा जाता है कि एक बात किसी वकील ने जेफ़ बेजोस से उनकी कंपनी का नाम पूछा तब उन्होंने Cadabra बताया लेकिन वकील को Cadever सुनाई दिया। जब वकील ने उनकी कंपनी के नाम को गलत बोला तो जेफ़ को बहुत दुख हुआ एवं उन्होंने सोचा यदि लोग मेरी कंपनी का नाम सही से नहीं ले पाएंगे तो यह बहुत कामयाब कंपनी के रूप में कैसे पहचान बनाएगी। इसलिए उन्होंने अपनी कंपनी का नाम बदलने की सोची।

अब जेफ़ बेजोस के सामने सबसे कठिन समस्या यह थी कि कंपनी का नाम रखा जाये, वह एक साधारण एवं जिस नाम को एक बार सुनकर कोई भूल न सके ऐसा ना रखना चाहते थे। जेफ़ को एक युक्ति सूझी, उन्होंने डिक्शनरी में से कोई एक नाम चुनकर रखने की सोची।

जेफ़ बेजोस ने अंग्रेजी डिक्शनरी के पहले अक्षर से शुरुआत की उन्होंने सोचा अगर नाम A अक्षर से हुआ तो सबसे अच्छा है क्योंकि A हमसे सबसे टॉप पर या पहले रहता है। डिक्शनरी को देखते हुए उनकी आँखे एवं ऊँगली Amazon (अमेज़न) पर आकर रुकी जो दुनिया की सबसे बड़ी नदी है।

जेफ़ बेजोस को अमेज़न नदी के ऊपर यह नाम अपने ऑनलाइन स्टोर के लिए सबसे उपयुक्त लगा क्योंकि अमेज़न सबसे बड़ी नदी थी और वो भी अपनी साईट को संसार की सबसे बड़ी बुकस्टोर साईट बनाना चाहते थे।

बेजोस की चाहत तो अमेज़न को एक ऑनलाइन बुकस्टोर बनाने की थी लेकिन यह बन गयी सभी सामानों को ऑनलाइन बेचने वाली दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी। निश्चित रूप से जेफ़ बेजोस एवं उनकी टीम ने यहाँ तक पहुँचने के लिए अथक प्रयास किये है।

👉 क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी > मोबाइल खरीदने से पहले जाने रैम के बारे में फिर नहीं होगा आपका फोन हैंग

अमेज़न कैसे काम करती है? (Working Process of Amazon in Hindi)

यदि आपने कभी अमेज़न की ई-कॉमर्स वेबसाइट से खरीदारी की है तो आप बहुत कुछ जानते है कि अमेज़न कैसे काम करती है। जैसे की हमने ऊपर पढ़ा है इस कंपनी की शुरुआत तो एक पुस्तक बेचने के ऑनलाइन स्टोर के रूप में हुई थी लेकिन आरम्भ होने के 10-15 वर्षो के भीतर ही अमेज़न ने किताबों के अलाबा अन्य उत्पादों की भी बेचना शुरू कर दिया।

जैसे-जैसे समय बीतता गया, वैसे अमेजन पर उत्पादों की संख्या बढती गयी। आज अमेज़न पर लगभग हर प्रकार का प्रोडक्ट उपलब्ध है।

आप अमेज़न की वेबसाइट पर जाकर कोई भी सामान कुछ सेकंड्स के अन्दर खरीद सकते है एवं बेच भी सकते है। जी हाँ आपने सही पढ़ा, अमेज़न हमे सिर्फ सामान क्रय करने करने का नहीं बल्कि बेचने का भी मौका देता है।

यदि आपके पास कोई भी खुद का प्रोडक्ट है तो आप अमेज़न एक एफिलिएट प्रोग्राम का हिस्सा बन सकते है तथा अमेज़न साईट पर अपने प्रोडक्ट को लिस्ट कर सकते है।

हो सकता है आपके पास स्वंय का कोई भी सामान न हो तो भी आप Amazon Affiliate प्रोग्राम में शामिल होकर अमेज़न पर ही उपलब्ध सामान को कही भी बेचकर एक अच्छा-खासा कमा सकता है।


अमेज़न कंपनी सिर्फ ई-कॉमर्स (खरीदारी) के ही क्षेत्र में ही काम नहीं करती बल्कि यह आर्टिफीसियल इंटेलीजेन्स, एवं क्लाउड कंप्यूटिंग (वेब होस्टिंग आदि) जैसे अन्य क्षेत्रो में भी अपनी सेवा प्रदान करती है।

अमेज़न ऑनलाइन स्टोर से सामान कैसे ख़रीदे (How to Make an Amazon Purchase)

कोई भी उत्पाद खरीदने के लिए सबसे पहले आपको अमेजन की वेबसाइट (amazon.in) पर जाना है एवं लॉग इन करना है। लॉग इन करने के लिए आपको एक अकाउंट की जरुरत पड़ेगी। अगर आपका अकाउंट नही है तो आप Create Account के विकल्प पर क्लिक करके आसानी से अकाउंट बना सकते है।

जैसे ही आप अमेज़न की वेबसाइट पर लॉग इन करते है तो वहाँ आप अपना मनचाहा प्रोडक्ट सर्च कर सकते है। मनचाहा उत्पाद मिलने के बाद आप Add to Shopping Cart या Buy Now के विकल्प पर क्लिक करके प्रोडक्ट को ऑर्डर कर सकते है या पेमेंट करके खरीद सकते है।

अमेज़न से कोई भी उत्पाद खरीदते समय ध्यान रखे कि आपने जो भी अपना नाम एवं घर का पता दिया है वह बिल्कुल सही है ताकि आपका क्रय किया गया सामान जल्दी एवं ठीक से आपके दिए पते पर पहुँच जाए।

आप अमेज़न की वेबसाइट से अपने आर्डर को ट्रैक भी कर सकते है जिससे यह पता चलता रहेगा कि आपका खरीदा सामान अभी कहाँ तक पहुँचा है और इस आप तक पहुँचने में कितना समय लगेगा।

अमेजन को उपयोग करने के लाभ (Benefits of Using Amazon in Hindi)

अमेजन को उपयोग करने के मतलब अमेज़न से खरीदारी करने के कई लाभ है । यह ई-कॉमर्स एवं टेक्नोलॉजी कंपनी हमेशा अपने ग्राहकों का ध्यान रखती है जिस कारण लोग इसे इतना पसंद करते है। आइये जानते है अमेज़न की वेबसाइट को उपयोग करने के लाभ

  1. यदि आप अमेज़न की साईट से कुछ भी उत्पाद खरीदते है तो आपको कही भी जाने की जरुरत नहीं आप घर बैठे ही कोई भी सामान एक क्लिक पर आर्डर कर सकते है।
  2. सामान को आर्डर करने पर वह कुछ ही घंटो के अन्दर आपके घर पहुच जाता है।
  3. अमेज़न हमेशा ही अपने ग्राहकों के लिए कुछ डिस्काउंट ऑफर लाता रहता है जिस बजह से यहाँ से उत्पाद खरीदना सस्ता पड़ता है।
  4. अमेज़न की वेबसाइट पर उपलब्ध सामान की कीमत बाजार में उपलब्ध उसी सामान की कीमत से कम ही होती है।
  5. अमेज़न से खरीदारी करना बिना थकाने वाला होता है एवं यहाँ पर हमारे पास चुनने के लिए अनगिनत उत्पाद उपलब्ध होते है।
  6. त्यौहार जैसे दीपावली, होली, क्रिसमस आदि पर अमेज़न की वेबसाइट पर ग्राहकों को उत्पाद खरीदने पर भारी छूट मिलती है।

अमेज़न को अपनी रोज-मर्रा की ज़िन्दगी में शामिल करने के एवं इसका इस्तेमाल करने के ऐसे ही कई फायदे है।

अमेज़न कंपनी के मुख्य सदस्य (Main Members of Amazon Company in Hindi)

कोई भी कंपनी सिर्फ एक इन्सान से नहीं बनती उसमे कई लोग शामिल होते है। कंपनी की परिभाषा ही यह है कि जहाँ कई लोगो का समूह मिलकर कार्य करता है उस स्थान को कंपनी कहते है। यही बिल्कुल अमेजन के साथ सच है, इसके भी कई मुख सदस्य है जो इसे चलाने का कार्य करते है।

हम सभी जेफ़ बेजोस के बारे में तो जानते ही है क्योंकि उन्होंने अमेज़न कंपनी की स्थापना की थी। आइये जानते है इस ई-कॉमर्स कंपनी के अन्य महत्वपूर्ण सदस्यों के बारे में एवं उनकी कंपनी में भूमिका के बारे में –

मुख्य सदस्य कंपनी में भूमिकाअमेज़न से जुड़ने का वर्ष
जेफ़ बेजोससंस्थापक एवं कार्यकारी अध्यक्ष1994
एंडी जेसीमुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO)1997
ब्रायन टी. ओल्साव्स्कीवरिष्ठ उपाध्यक्ष और मुख्य वित्तीय अधिकारी (CFO)2002
डेविड एच. क्लार्कमुख्य कार्यकारी अधिकारी, (विश्वव्यापी उपभोक्ता)1999
शेली एल. रेनॉल्ड्सउपाध्यक्ष, वर्ल्ड वाइड कंट्रोलर2006
एडम एन. सेलिप्स्कीमुख्य कार्यकारी अधिकारी (अमेज़न वेब सेवाएँ)2005
डेविड ए. ज़ापोल्स्कीवरिष्ठ उपाध्यक्ष, सामान्य परामर्शदाता और सचिव1999

अमेज़न कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स (Board of Directors of Amazon in Hindi)

अमेज़न में बहुत ही नामी लोगों का पैसा लगा हुआ है। कुछ मुख्य लोग है जो इस कंपनी के बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर्स है मतलब कम्पनी को चलाने के लिए किसी बड़े कार्य को अंजाम देने से पहले इन बोर्ड के इन सदस्यों से सलाह अवश्य ली जाती है।

आइये जानते है अमेज़न के बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर्स की लिस्ट में कौन-कौन शामिल है।

नामक्यों जाने जाते है?अमेज़न के डायरेक्टर कब बने?
जेफ़ बेजोसअमेज़न के संस्थापक एवं कार्यकारी अध्यक्ष1994 से
एंडी जेसीअमेज़न के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO)1997 से
कीथ बी अलेक्जेंडरIronNet Cybersecurity, Inc. के सह-मुख्य कार्यकारी अधिकारी, व अध्यक्ष रहे है।सितम्बर 2020 से
इंदिरा के. नूयीPepsiCo, Inc. कंपनी की मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) रही है।फरवरी 2019 से
एडिथ डब्ल्यू. कूपरMedley की सह-संस्थापक (Co-founder) रही है।सितम्बर 2021 से
जेमी एस. गोरेलिकअमेरिका की डिप्टी अटॉर्नी जनरल रही है।फरवरी 2012 से
जूडिथ ए. मैकग्राथMTV नेटवर्क की पूर्व अध्यक्ष और सीईओजुलाई 2014 से
डेनियल पी. हटनलोचरMIT Schwarzman College of Computing के डीन के रूप में कार्यरतसितम्बर 2016 से
जोनाथन जे. रुबिनस्टीनBridgewater Associates के सह-सीईओ एवं Apple Inc. के वरिष्ट उपाध्यक्ष रहे है।दिसम्बर 2010 से
थॉमस ओ. राइडरReader’s Digest Association, Inc. के चेयरमैन तथा सीईओ रहे है।नवम्बर 2002 से
पेट्रीसिया क्यू. स्टोनसिफरMartha’s Table की अध्यक्ष एवं सीईओ रही है।फरवरी 1997 से
वेंडेल पी. वीक्सCorning Inc. के चेयरमैन व सीईओ के रूप में कार्यरत है।फरवरी 2016 से

अमेज़न के उत्पाद एवं सेवाएँ (Amazon’s Product & Services)

amazon.com की शुरुआत सिर्फ पुस्तकों को बेचने के उद्देश्य से हुई थी लेकिन इसमें निरंतर नए उत्पाद जुड़ते रहे। आज अमेज़न सैकड़ो उत्पादों को बेचती है तथा कई क्षेत्रों में अपनी सेवाएँ भी प्रदान करती है।

अमेज़न की वेबसाइट पर आप अनगनित किताबे, डीवीडी, विडियो टेप्स इलेक्ट्रॉनिक्स उपकरण, कपडे, सोंदर्य उत्पाद, वैज्ञानिक उपकरण, स्वास्थ्य सम्बन्धित प्रोडक्ट, ज्वैलरी, संगीत उपकरण तथा खेल के सामान आदि खरीद सकते है।
अमेजन.कॉम के अंतर्गत कई उत्पाद एवं सेवाएँ आती है जिनमे से कुछ निम्नलिखित है –

उत्पाद /सेवाएँकार्य की प्रकर्ति
अमेज़न प्राइम (Amazon Prime)यह एक पेड सबस्क्रिपसन प्रोग्राम है जो विडियो , म्यूजिक स्ट्रीमिंग, ई-बुक रीडिंग, गेमिंग तथा शॉपिंग आदि की सेवी प्रदान करता है।
अमेज़न फ्रेश (Amazon Fresh)यह एक किराने के सामान की डिलीवरी करने की सेवा देती है। इसकी सेवाएं अभी अमेरिका के कुछ बड़े शहरो एवं दुनिया के बड़े शहरों तक सीमित है।
अमेज़न अलेक्सा (Amazon Alexa)अलेक्सा एक वर्चुअल अस्सिस्टेंट टेक्नोलॉजी है जिसकी सहायता से आप बोलकर कई सारे कार्यो को अंजाम दे सकते है।
अमेज़न एपस्टोर (Amazon Appstore)यह एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए बनाया गया एक एप स्टोर है।
अमेज़न ड्राइव (Amazon Drive)यह एक क्लाउड स्टोरेज एप्लीकेशन सर्विस है जो डेटा को स्टोर करने, फाइल का बैकअप लेने एवं फाइल शेयरिंग आदि का विकल्प देती है।
अमेजन किंडल (Amazon Kindle)यह एक ई-बुक रीडर या ई-बुक डिवाइस है जिस पर आप किताबे पढ़ सकते है। 2018 के एक डेटा के अनुसार किंडल स्टोर पर 60 लाख से अधिक ई-बुक्स उपलब्ध है।
अमेजन फायर (Amazon Fire)अमेज़न फायर टेबलेट कंप्यूटर की एक लाइन है जिसके अंतर्गत टेबलेट की कई सीरीज जैसे Fire 7, Fire HD 8 आदि आ चुके है।
अमेजन फायर टीवी (Amazon Fire TV)यह डिजिटल मीडिया प्लेयर तहत माइक्रोकंसोल्स की एक श्रंखला है जो एक HD TV के लिए इन्टरनेट से डिजिटल ऑडियो, विडियो तथा गेमिंग की सुविधा प्रदान कराती है।
अमेज़न प्राइम विडियो (Amazon Prime Video)यह अमेज़न की एक सब्सक्रिप्शन पर निर्धारित विडियो स्ट्रीमिंग प्लेटफार्म है जहाँ आप सब्सक्रिप्शन लेकर फिल्मे, सीरीज तथा शोज आदि देख सकते है।
अमेज़न स्टूडियोज (Amazon Studios)अमेज़न की इस सब्सिडियरी का काम टेलीविज़न सीरीज एवं फिल्मे बनाना एवं उनका अमेज़न प्राइम विडियो एवं थिएटर आदि में वितरण करना है।
अमेजन अकैडमी (Amazon Academy)यह एक ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफार्म है जिसका उद्देश्य भारत में इंजीनियरिंग परीक्षा JEE (Joint Entrance Exam) की विद्यार्थियों को तैयारी कराना है। इसे अमेज़न इंडिया द्वारा 13 जनवरी 2021 को अस्तित्व में लाया गया है।

ये थे अमेज़न के कुछ मुख्य उत्पाद एवं सेवाएं। ऐसे कई और क्षेत्र है जिनमे अमेज़न कंपनी अपनी कार्यरत है जैसे वायरलेस, डिजिटल सॉफ्टवेयर, म्यूजिक तथा विडियो गेम्स आदि।

👉 क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी > लैपटॉप व मशीनो की मैमोरी रोम जो कभी कुछ नहीं भूलती

अमेज़न द्वारा खरीदी गयी कंपनियाँ (Companies Acquired by Amazon in Hindi)

अमेज़न की शुरुआत सिर्फ एक किताब बेचने वाली वेबसाइट के रूप में हुई थी लेकिन जैसे-जैसे इस कंपनी का लाभ बढ़ता रहा है अन्य कंपनियों को खरीदती रही। आज ऐसी कई कम्पनिया है जिन्हें अमेज़न एन खरीद लिया है यह केवल अमेरिका की ही अनहि बल्कि भर की कंपनिया है।

आइये डालते है एक नजर अमेरिका एवं अHindiन्य देशों की कंपनियों पर जिन्हें अमेज़न ने अधिग्रहण किया।

कंपनीदेश कब ख़रीदा गया?
joyo.com (इसे अब Amazon China के नाम से जाना जाता है।)चीन 19 अगस्त, 2004 को
IMDbयूनाइटेड किंगडम 27अप्रैल, 1998
Alexa Internetअमेरिका 27 अप्रैल, 1999
Mobipocketफ्रांस 21 अप्रैल, 2005
Audibleअमेरिका 28 जनवरी, 2008
Tapzo (जिसे अप Amazon Pay के नाम से जाना जाता है।)भारत 28 अगस्त, 2018
LiveBid.comअमेरिका 12 अप्रैल, 1999
AbeBooksकनाडा 1 अगस्त, 2008
Bookpages (इसे अब Amazon UK) के नाम से जाना जाता है।यूनाइटेड किंगडम 27 अप्रैल, 1998
BuyVIPस्पेन 4 अक्टूबर, 2010
Annapurna Labsइजराइल 22 जनवरी, 2015
Westlandभारत 28 अक्टूबर, 2016
souq.comयूनाइटेड अरब अमीरात 6 सितम्बर, 2017
Telebook (जिसे अब Amazon Germany के नाम से जाना जाता है)जर्मनी 27 अप्रैल, 1998
IGDBस्वीडन 17 सितम्बर 2019
Emvantage Paymentsभारत 16 फरवरी, 2016
Jungleeअमेरिका 4 अगस्त, 1998
IVONA Softwareपोलैंड 24 जनवरी, 2013
Whole Foods Marketअमेरिका 16 जून, 2017
Metro-Goldwyn-Mayerअमेरिका 26 मई, 2021

ऊपर हमने अमेज़न कंपनी द्वारा अधिग्रहण की गयी कुछ कंपनियों के बारे में सूचना प्राप्त करायी। अमेज़न द्वारा ऐसी कई कंपनियां खरीदी गयी है जिनमे accept.com, PlanetAll, OurHouse.com, Goodreads, TSO Logic, Umbra 3D आदि प्रसिद्ध है।

अमेज़न पर लगे आरोप एवं आलोचना (Criticism of Amazon in Hindi)

ऐसा बहुत ही कम देखने को मिलता है कि कोई कंपनी बेहद ही नाम कमाले एवं उसकी करोड़ो में हो तथा उस पर कोई आरोप ना लगे। बिल्कुल यही अमेज़न के साथ भी है, अमेजन जैसी कम्पनी पर भी कई आरोप लगे है। आइये जानते है अमेज़न कंपनी पर लगे कुछ आरोपों के बारे में –

  • अमेजन ने one-click पेमेंट की सुविधा का पेटेंट लेना चाह था। इस कंपनी ने कहा ग्राहक सिर्फ एक क्लिक में हमारी साईट से कुछ भी खरीद सकता है यह हमारे द्वारा बनाया गयी टेक्नोलॉजी है इसलिए इसे दुनिया में सिर्फ हम उपयोग करेंगे। कई लोगो ने इस पेटेंट पर सवाल उठाये क्योंकि इस से कॉमर्स के क्षेत्र में नए अविष्कारों पर फर्क पड़ता।
  • अक्टूबर 1, 2015 में अमेज़न ने एप्पल एवं गूगल के कुछ उत्पादों की बिक्री पर अपनी वेबसाइट से रोक लगा दी थी। इस आरोप पर अमेज़न ने कहा कि एप्पल टीवी तथा गूगल क्रोमकास्ट अमेज़न प्राइम विडियो को सपोर्ट नहीं करते, लोग भ्रांति में ना रहे इसलिए ऐसा किया गया।
  • अमेज़न पर एक आरोप यह लगा कि इनकी साईट पर विकिपीडिया के कंटेंट से बनी किताबे बेची गयी है या बेचीं जा रही है।
  • जब अमेज़न जैसी बड़ी कंपनी भारत में आई तो माध्यम दुकानदारों ने इसका बहुत विरोध किया। इन दुकानदारो का कहना था कि ये ऑनलाइन ई-कॉमर्स वेबसाइट सस्ते दामो पर सामान बेचती है जिस बजह से ग्राहक हमसे खरीदारी नहीं करेंगे।
  • अमेजन के विडियो प्लेटफार्म पर दो कुत्तो के बीच की लड़ाई एवं मुर्गो के बीच की लड़ाई के विडियो थे जिन पर अमेरिका की ह्यूमन सोसाइटी द्वारा सवाल उठाये गए। ह्यूमन सोसाइटी ने कहा किसी भी कंपनी को जानवरों की इस प्रकार की लड़ाईयों वाली वीडियोस नहीं बेचनी चाहिए। अमेज़न ने इस प्रकार की विडियो तथा अन्य उत्पादों को अपने प्लात्फ्रोम से हटा दिया।

FAQ (सवाल-जबाब)

सवाल – अमेज़न क्या है?

जबाब – अमेज़न एक ई-कॉमर्स तथा टेक्नोलॉजी कंपनी है जो पूरी दुनिया में अपनी सेवा प्रदान करती है। अमेज़न कंपनी का मुख्यालय अमेरिका देश के वाशिंगटन राज्य के सिएटल शहर में है।

सवाल – अमेजन कंपनी का मालिक कौन है?

जबाब – अमेज़न कंपनी की स्थापना जेफ़ बेजोस ने 5 जुलाई, 1994 को की थी। जेफ़ बेजोस अब कम्पनी के चेयरमैन है इन्होने 2021 में सीईओ के पद से इस्तीफा दिया है।

सवाल – अमेजॉन किस देश की कंपनी है?

जबाब – अमेज़न अमेरिका देश से शुरू हुई कंपनी है जो अब भारत, इंग्लैंड, कनाडा, चीन, ब्राज़ील, फ्रांस, स्पेन तथा स्पेन आदि संसार के कई देशो तक फैली हुई है।

आज हमने क्या जाना?

आज हमने Amazon in Hindi के इस आर्टिकल में अमेज़न क्या है (Amazon Kya Hai), अमेज़न कंपनी के बोर्ड सदस्य, अमेज़न कंपनी का इतिहास (History of Amazon in Hindi) आदि के बारे में विस्तार से जाना। हमने अमेज़न कंपनी के भिन्न उत्पादों एवं सेवाओं के बारे में बात की।

अन्य पोस्ट भी पढ़े

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *