एलोवेरा के ये 12 फायदे चकित कर देंगे आपको | Aloe Vera Ke Fayde

एलोवेरा क्या है (Aloe Vera in Hindi) एलोवेरा के फायदे, एलोवेरा का उपयोग, नुकसान, प्रकार (Aloe Vera Ke Fayde, Benefits in Hindi, Uses and Types, Aloe Vera Ke Nuksan)

aloe-vera-ke-fayde-benefits-nuksan-in-hindi
एलो वेरा के फायदे – Aloe Vera Ke Fayde

हमारे वातावरण में ऐसी कई औषधियाँ उपलब्ध है जो बहुत ही गुणवान है। इन औषधियों या पौधों की गुणवत्ता का पता उपयोग करने पर ही चल पाता है। ऐसा ही एक पौधा है जिसे हम एलोवेरा या घृतकुमारी के नाम से जानते है। एलो वेरा एक बहुत ही गुणकारी पौधा है जिक्से कारण इसका सेवन करने के कई फायदे है। आइये जानते है एलोवेरा के बारे में विस्तार से

एलोवेरा क्या है? (Aloe Vera in Hindi)

एलोवेरा एक छोटा सा पौधा है, जिसको घृतकुमारी  कहा जाता है और इसे अन्य नामों से भी जाना जाता है। यह पौधा अपने औषधीय गुणों के लिए विश्व भर में विख्यात है।

इसकी उत्पत्ति उत्तरी अफ्रीका में मानी जाती है। इस पौधे की प्रजाति विश्व के अन्य स्थानों पर स्वाभाविक रूप से नहीं मिलती लेकिन इसके जैसे दिखने वाले अन्य पौधे अलो उत्तरीअफ्रीका में पाए जाते हैं। इस पौधे को क्वार गंदल या ग्वारपाठा भी कहते हैं, एलोवेरा इसका वैज्ञानिक नाम है।

एलोवेरा बहुत सी परेशानियों से हमारे शरीर को निजात दिला सकता है।

एलोवेरा में उपलब्ध पोषक तत्व (Nutrients) –

एलोवेरा एक बहुत ही गुणकारी पौधा है क्योंकि इसमें बहुत सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं ये पोषक तत्व शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं।

इसमें विटामिन ए, सी, ई, कॉलिंन, फोलिक एसिड, विटामिन b1, b2, b3 और b6 पाया जाता है। इसके अलावा विटामिन बी 12 भी एलोवेरा के पौधों में पाया जाता है।

इसके अलावा लगभग 20 प्रकार के मिनरल्स जैसे मैग्नीशियम, क्रोमियम, कैल्शियम, जिंक, सेलेनियम, आयरन, कॉपर, पोटेशियम और मैग्नीज शामिल है। यह सारे पोषक तत्व शरीर के लिए काफी फायदेमंद होते हैं।

एलोवेरा के उपयोग (Uses of Aloe Vera in Hindi)

एलोवेरा हमारे शरीर के लिए बहुत उपयोगी है, इसका उपयोग हम कई तरह से कर सकते हैं ।
जैसे –

  • हम एलोवेरा से बनी क्रीम का उपयोग अपने चेहरे पर कर सकते हैं।
  • एलोवेरा से बने साबुन का उपयोग कर सकते हैं।
  • इसके जेल को चेहरे पर लगाकर धूप में जा सकते हैं क्योंकि इससे बना जैल सूर्य की अल्ट्रावायलेट किरणों से हमारे चेहरे को सुरक्षित रखता है।
  • एलोवेरा से बने जूस का सेवन कर सकते हैं।
  • एलोवेरा के टूथपेस्ट का उपयोग कर सकते हैं।
  • शहद के साथ भी एलोवेरा का सेवन कर सकते हैं।
  • मुल्तानी मिट्टी, हल्दी, शहद और एलोवेरा का फेस पैक बनाकर चेहरे पर लगाया जा सकता है।
  • एलोवेरा का उपयोग कंडीशनर के रूप में भी किया जा सकता है।
  • एलोवेरा का उपयोग चेहरे पर मसाज के लिए भी किया जा सकता है।

👉 क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी > चिया बीज ऐसे खाए, बीमारी चुटकियों में दूर भगाए

एलोवेरा के फायदे (Aloe Vera Ke Fayde)

एलोवेरा न सिर्फ सेहत बल्कि त्वचा के लिए भी बहुत अधिक फायदेमंद है इसीलिए हम आगे आपको इसके फायदे के बारे में जानकारी दे रहे हैं. जैसे –

1. कब्ज में एलोवेरा के फायदे

कब्ज एक आम समस्या होती है, लगभग सभी घरों में किसी ना किसी को कब्ज बनता ही रहता है इसके लिए हम तरह-तरह की दवाइयां लेते है जो स्वास्थ्य के लिए काफी हानिकारक होती है।

ऐसे में हमें प्राकृतिक चीजों का सेवन करना चाहिए कब्ज की समस्या में एलोवेरा का रस काफी फायदेमंद हो सकता है क्योंकि इसमें पेट को साफ करने का गुण होता है। लैक्सेटिव गुण के कारण इसका सेवन पूरी तरह सुरक्षित है।

2. वजन कम करने के लिए

आज के दौर में वजन बढ़ना आम समस्या होती जा रही है, ऐसे में हमें एलोवेरा से बने जूस का सेवन करना चाहिए इससे कुछ हद तक परेशानी से छुटकारा मिल सकता है क्योंकि एलोवेरा में एंटी ओबेसिटी गुण होते हैं जो मोटापे को नियंत्रित करने का काम करते हैं।

3. पाचन तंत्र के लिए

एलोवेरा पाचन तंत्र के लिए काफी फायदेमंद होता है पेट से जुड़ी समस्याओं के लिए एलोवेरा जूस काफी फायदेमंद होता है। इसके अलावा एलोवेरा पाचन तंत्र से ग्रस्त मरीजों में गैस और पेट दर्द की समस्या को  कम करने का काम करता है। इसके अतिरिक्त अगर किसी को पाचन संबंधी समस्या है पहला परामर्श डॉक्टर से ही ले।

4. कोलेस्ट्रॉल के लिए

इसके सेवन से कोलेस्ट्रॉल में काफी फायदा मिलता है। एनबीसीआई में हुए एक अध्ययन के अनुसार एलोवेरा से मैं सिर्फ ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस कम हो सकता है बल्कि लीवर कोलेस्ट्रॉल भी कम हो सकता है। एलोवेरा में हाइपो कोलेस्ट्रो मिक प्रभाव होता है जो कोलेस्ट्रॉल को कम करने में सहायक होता है।

5. हृदय स्वास्थ्य के लिए

एलोवेरा के सेवन से हृदय संबंधी समस्याएं कम हो सकती हैं ।चूहों पर किए गए एक शोध के अनुसार पता चलता है कि एलोवेरा हृदय रोग के प्रभाव को कम करता है। इसमें कार्डियो प्रोटेक्टिव गुण होते हैं जो हृदय को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं।

6. गठिया ठीक करने में एलोवेरा के फायदे

आजकल की खानपान और अधिक वजन, बढ़ती उम्र या कोई अन्य कारणों से गठिया की बीमारी हो सकती है, ऐसे में सही उपचार होना बहुत आवश्यक है, गठिया के उपचार में एलोवेरा काफी लाभकारी हो सकता है । इसके अलावा एलोवेरा में इन्फ्लेमेटरी गुण मौजूद होने के कारण इसका उपयोग जोड़ों के दर्द के लिए फायदेमंद हो सकता है हालाकी जिसको गठिया की समस्या अधिक हो वह पहला परामर्श डॉक्टर से ही ले।

7. मुंह के स्वास्थ्य के लिए

एलोवेरा मुंह के लिए काफी फायदेमंद होता है क्योंकि इसमें मुंह में बीमारी पैदा करने वाले  बैक्टीरिया को खत्म करने के गुण होते हैं। इसमें एंटीमाइक्रोबॉयल गुण होते हैं जो मुंह को स्वस्थ रखते हैं तो इसीलिए सुबह खाली पेट एलोवेरा की पत्तियों को मुंह में चबाना चाहिए।

👉 क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी > जौ की रोटी खाने के ऐसे फायदे की गेहूँ की रोटी खाना भूल जांयेंगे आप

8. रोग प्रतिरोधक क्षमता के लिए

हम आम तौर पर देखते हैं लगभग सभी के अंदर रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती जा रही है इसके कम होने के कारण लोग जल्दी बीमार हो जाते हैं इस स्थिति में एलोवेरा का सेवन रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। एक शोध के अनुसार एलोवेरा इम्यून बूस्टर की तरह काम करता है जिससे व्यक्ति का स्वास्थ्य ठीक रहता है।

9. झुर्रियों के लिए

एलोवेरा झुर्रियों के लिए काफी फायदेमंद होता है। आजकल लोग झुर्रियों के लिए कई तरह की कॉस्मेटिक क्रीम और ट्रीटमेंट कर आते हैं लेकिन उनसे कोई खास असर नहीं दिखाई देता। इसीलिए झुर्रियों को दूर करने के लिए एलोवेरा जेल एक अच्छा प्राकृतिक उपचार हो सकता है। एक वेबसाइट में प्रकाशित शोध के अनुसार एलोवेरा के सेवन से सूर्य की किरणों से होने वाली हानी से बचा जा सकता है।

10. एलोवेरा के फायदे बालों के लिए

हम सभी जानते है बालों को स्वस्थ बनाये रखने के लिए विटामिन सी, ई, तथा ए काफी प्रभावकारी होते है। एलोवेरा में विटामिन ए, ई, सी तथा कैल्शियम, मैग्नीशियम आदि भरपूर मात्रा में पाए जाते है। एलोवेरा को बालों पर लगाकर कर कुछ समय के लिए छोड़ दे, लगभग आधे घंटे बाद इसे सामान्य पानी से धो ले। ऐसा करने से आपको कुछ ही समय में बालों में चमक एवं मजबूती दिखाई देनी शुरू हो जाएगी।

ध्यान रहे बालों पर लगाने वाला एलोवेरा घर का हो! अपने घर इसका एक पौधा लगा ले जिससे आपको स्वस्थ एलोवेरा खाने एवं लगाने के लिए मिल सके।

11. पेट के लिए एलोवेरा के फायदे

चूँकि एलोवेरा कई पौषक तत्वों का खजाना है इसलिए पेट के लिए यह कई रूपों में लाभकारी है। इसका नियमित सेवन करने से पेट में पानी की कमी नहीं होती जिस कारण स्वास्थ्य बेहतर रहता है एवं त्वचा में भी निखार बना रहता है। इसके आलावा भी घृतकुमारी पाचन को दुरुस्त करती है तथा पेट को मुलायम बनाये रखती है।

12. लिंग पर एलोवेरा लगाने के फायदे

आप भी शायद कई लोगों की तरह जाने चाहते होंगे कि घृतकुमारी या एलोवेरा के लिंग पर लगाने के कोई फायदे है। तो आपको बता दे अभी तक सीधे रूप से यह प्रमाणित नहीं हुआ है कि एलोवेरा किसी भी प्रकार से लिंग को लाभ पहुचाता है।बहुत से लोग सिर्फ पैसे कमाने के लिए लेख या विडियो बनाते है, जिसमे वो दिखाते है घृतकुमारी लिंग के लिए कितना प्रभावी है जबकि वैज्ञानिक रूप से ऐसा कोई प्रमाण नहीं है।

एलोवेरा में हमारी त्वचा को निखार कर उसे सुन्दर बनाने का गुण होता है तो आप भी अपने लिंग को थोड़ा निखारने के लिए इसका उपयोग कर सकते है।

👉 क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी > जौ के पानी को पीने से दूर होती है ये भयानक बीमारियाँ

एलोवेरा के नुकसान (Aloe Vera Ke Nuksan) –

अब तक आपने एलोवेरा के फायदे और उपयोग के बारे में जाना, इसके अलावा एलोवेरा के सेवन से कुछ हानियां भी हो सकती हैं जो इस प्रकार हैं –

  • अगर किसी व्यक्ति को एलर्जी की समस्या है तो वह डॉक्टर के परामर्श से ही इसका पेस्ट अपने चेहरे पर लगाएं नहीं तो एलर्जी की समस्या बढ़ भी सकती है।
  • ऐसे व्यक्ति जिनको एलोवेरा से बना जूस पीने में असहजता महसूस हो वह लोग इसका जूस ना पिए नहीं तो उनको कुछ समय के लिएअसहजता महसूस होती रहेगी।
  • ब्लड शुगर वाले लोग एलोवेरा का सेवन ना करें यदि वह इसका सेवन करते हैं तो उनका ब्लड शुगर का लेवल कम हो सकता है।
  • एलोवेरा  में लैक्सेटिव गुण होने के कारण पेट दर्द और उल्टी की समस्या में इसका सेवन ना करें नहीं तो स्थिति ओर ज्यादा खराब हो सकती है।
  • गर्भवती स्त्रियां इसका सेवन डॉक्टर के परामर्श से ही करें क्योंकि इसके दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं।

सबसे बढ़िया एलोवेरा की पहचान कैसे करें-

जैसा कि हम सभी जानते हैं एलोवेरा एक ऐसा पौधा है जो परिचय का मोहताज नहीं है क्योंकि इसमें काफी सारे औषधीय गुण हैं। सबसे बढ़िया एलोवेरा के लिए बेहतर यही होगा कि हम एलोवेरा का पौधा घर पर ही लगाएं उससे हमें बिना केमिकल का एलोवेरा मिलेगा।

यदि बाजार से एलोवेरा या एलोवेरा जैल खरीद रहे है तो इसके डब्बे पर लिखे अन्य उत्पादों के बारे में पढना ना भूले. बिना 100% एलोवेरा लिखे उत्पाद को खरीदने से परहेज करे।

👉 क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी > भांग के बीज नशा नहीं करते, बल्कि दूर करते है ये खतरनाक रोग

FAQ (सवाल-जबाब)

एलोवेरा का हिंदी नाम क्या है?

एलोवेरा को हिंदी में घृतकुमारी के नाम से जाना जाता है।

एलोवेरा के फायदे और नुकसान क्या है?

एलोवेरा का उपयोग शुगर, त्वचा की परेशानी, बवासीर, मुहांसे आदि के लिए बहुत फायदेमंद है, इसका या इसके जूस का अधिक सेवन करने से डिहाइड्रेशन, तथा डायरिया जैसी समस्या हो सकती है।

कच्चा एलोवेरा खाने से क्या होता है?

कच्चा एलोवेरा खाने से पेट की कई समस्याओं में आराम मिलता है, इसके साथ इसके खाने से त्वचा निखरती है, पानी की कमी दूर होती है तथा लाल रक्त कौशिकाओ को बढ़ने में भी मदद मिलती है।

ध्यान देने योग्य

इसमें कोई संदेह नहीं कि घृतकुमारी या एलोवेरा एक चमत्कारिक औषधि है। इसके चमत्कारिक गुणों के कारण भी जरूरी नहीं है सबसे लिये फायदेमंद साबित हो। इसलिए घृतकुमारी का उपयोग शुरू में कम मात्रा में करके देखे, यदि आपको यह फायदेमंद दिखे तभी आगे इसका इस्तेमाल करे अन्यथा नहीं।

आज हमने क्या जाना?

आज हमने एलोवेरा के फायदे (Aloe Vera Ke Fayde) के इस लेख में इस औषधीय पौधे के कई गुणों के बारे में जाना। साथ में हमने एलोवेरा के नुकसान (Aloe Vera Ke Nuksan) , एलोवेरा के उपयोग (Aloe Vera Ke Upyog) तथा इसकी पहचान कैसे कर इस बारे में जानकरी प्राप्त करी। आपको जानकारी कैसे लगी कमेंट बॉक्स में अवश्य बताये, आपके सुझावों की प्रतीक्षा रहेगी।

महत्वपूर्ण लेख

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *